VIDEO: त्योहारों में धडल्ले से चल रहा है मिलावट का धंधा

नई दिल्ली (21 अक्टूबर): मुनाफाखोर आपकी दीवाली काली करने का पूरा इंतजाम कर चुके हैं। मिठाइयों से लेकर सरसों तेल में मिलावट का धंधा जोरों पर है। जालंधर में मिलावटी मिठाई बनाने वाली फैक्ट्री पर छापा मारा गया और सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिए गए हैं। वहीं जयपुर में स्वास्थ्य विभाग की छापेमारी में तेल में मिलावट पकड़ी गई। यहां 15 हजार लीटर मिलावटी तेल जब्त किया गया।

त्योहार के मौसम में मुनाफाखोर माफिया लूट मचाने पर तुले हुए हैं। इस बार भी दीवाली के नजदीक आते ही आपको जहर परोसने की तैयारी हो चुकी है। पंजाब के जालंधर के गाजीमुल्ला मोहल्ले में पुख्ता सूचना पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मिठाई बनाने वाली इस फैक्ट्री में छापेमारी की तो वो भी हैरान रह गए। बूंदी बनाने के लिए जिस बेसन का इस्तेमाल होता है, उसमें यहां आटे की मिलावट की जा रही थी। यही नहीं मिठाई बनाने में घटिया घी के साथ ही खराब सामान इस्तेमाल किए जा रहे थे।

इस फैक्ट्री के मालिक की गुप्ता स्वीट्स के नाम से मिठाई की एक दुकान भी है और यहां तैयार घटिया किस्म की मिठाइयां वहां बेची जाती हैं। बहरहाल छापेमारी करने वाली टीम ने फैक्ट्री से मिठाइयों और उसे बनाने में इस्तेमाल किए जाने वाले बाकी सामानों के सैंपल ले लिए हैं। जिसे जांच के लिए लैब भेजा जाएगा।

वहीं जयपुर में सरसों तेल का टैगोर ब्रांड राजस्थान का नंबर एक ब्रांड माना जाता है। लोग शायद इसमें मिलावट की बात सोच भी नहीं सकते। मगर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने जब यहां छापेमारी की तो वो भी चौंक गई। यहां सरसों तेल में पेप्साइड यानी जो तेल कारखानों में काम आता है, उसकी मिलावट की जा रही थी। खास बात ये है कि इस तेल को खाने में इस्तेमाल करने से पेट की बीमारियों से लेकर कैंसर तक हो सकता है। यहां बाकायदा करीब 20 टन का एक टैंक भी मिला।

मिलावट के इस धंधे से फर्म का मालिक मोटा मुनाफा कमा रहा था। वो केनोला के बीजों से बनाए गए सस्ती कीमत पर मिले तेल की भी मिलावट कर रहा था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने यहां 15 हज़ार लीटर मिलावटी तेल जब्त किया। छापेमारी के दौरान मौके से सभी कर्मचारी फरार हो गए। बाद में फर्म का मालिक मौके पर तो पहुंचा, लेकिन वो ये मानने को बिल्कुल तैयार नहीं कि उसने कुछ गलत किया है।

फिलहाल स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने तेल की इस कंपनी को सीज़ कर दिया है और सैंपल को लैब में जांच के लिए भेज दिया है। लेकिन जिस तरह से लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ किया जा रहा था, उसके लिए गुनहगारों को सख्त से सख्त सजा मिलनी चाहिए। ताकि मुनाफाखोरों को सबक मिल सके।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=WmIFUj3dfMk[/embed]