FDI से इन सेक्टर्स में आएगी जॉब की बाढ़...

नई दिल्ली (3 अगस्त): केंद्र सरकार ने कई क्षेत्रों में 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी है और कई क्षेत्रों में एफडीआई की लिमिट बढ़ाई गई है। ‍जिन कुछ क्षेत्रों में एफडीआई को सबसे ज्यादा बढ़ावा दिया गया है और वहां ही जॉब की सबसे ज्यादा सम्भावनाएं हैं।

जानें कौन हैं ये क्षेत्र....

फूड प्रॉडक्ट मैन्युफेक्चरिंग: इस क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी गई है। इसके तहत वो फूड प्रॉडक्ट्स आएंगे जो ई-कॉमर्स (ऑनलाइन) के जरिए कस्टमर तक भेजे जाएंगे। सरकार ने ई-कॉमर्स के क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी दी है। इस क्षेत्र में बड़े पैमाने पर जॉब्स आने की उम्मीद है।

रिटेल सेक्टर: रिटेल सेक्टर में सिंगल ब्रैंड के लिए 100 प्रतिशत एफडीआई और मल्टी ब्रैंड रिटेल के लिए 49 प्रतिशत तक एफडीआई मंजूर कर दिया गया है। इसलिए इस क्षेत्र में एमबीए या डिप्लोमा किए हुए लोगों के लिए बहुत सारी सम्भावनाएं बन रही हैं। इसके अलावा इसमें भी फाइनैंस और एचआर सेक्टर तो हैं हीं।

डिफेंस सेक्टर: वर्तमान समय में डिफेंस सेक्टर में 49 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी मिली है। लेकिन इस क्षेत्र में सरकार के मंजूरी के बाद ही निवेश किया जा सकता है। लेकिन अच्छी बात है कि अभी तक इस क्षेत्र में केवल सरकारी सेवा में ही जॉब पाई जा सकती थी पर उम्मीद है कि एफडीआई आने के बाद अब इसके निजी क्षेत्र में भी जॉब बढ़ेंगी।

फार्मास्युटिकल्स सेक्टर: फार्मा के क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई को मंजूरी मिली है। इससे फार्मा से जुड़ी हुई एमएनसी भारत में आएंगी और यहां फार्मा सेक्टर्स से जुड़ी जॉब्स, मसलन फार्मासिस्ट, एमआर के अलावा फाइनैंस और एचआर सेक्टर में भी जॉब के मौके आएंगे।

सिविल एविएशन: यह एक ऐसा क्षेत्र है, जहां जॉब्स की बहुत सम्भावना है। पर अभी तक इस क्षेत्र में एफडीआई को मंजूरी न मिलने की वजह से इस क्षेत्र में बहुत कम कम्पनी ही एक्टिव थीं। पर अब इस क्षेत्र में 100 प्रतिशत एफडीआई लागू होने की वजह से काफी बड़ी संख्या में जॉब्स आने की सम्भावना है।