बेल्जियम: 'मदर ऑफ जिहाद' नाम से चर्चित महिला आतंकी रिहा

नई दिल्ली (8 अगस्त): बेल्जियम मीडिया में "मदर ऑफ जिहाद" नाम से बहुचर्चित महिला को आतंकवाद के आरोपों में 15 साल की जेल की सज़ा दी गई थी। लेकिन चार महीनों में ही उसे रिहा कर दिया गया।

ब्रिटिश अखबार 'द इंडिपेंडेंट' की रिपोर्ट के मुताबिक, 55 वर्षीय फातिमा अबेरकन जिहादी ग्रुप्स के लिए भर्ती करने के लिए दोषी पाई गई थी। 

- प्रॉसीक्यूटर्स ने कहा कि वह जाने माने आतंकी संगठन अलकायदा के नेटवर्क से जुड़ी हुई है। - वह 2013 में अपनी दो टीनएज बेटियों के साथ सीरिया जाती रही थी। - इसी साल अप्रैल में उसे 15 साल की जेल की सजा दी गई थी।  - बेल्जियम के एक अखबार के मुताबिक, महिला पहले ही जेल से बाहर निकल चुकी है। - अबर्केन की रिहाई को मंजूरी तब दी गई जब उसके वकीलों ने बेल्जियम की एक अदालत में अपील का आवेदन किया।