दिल्ली: पिता ने बेटे के हत्यारों को किया माफ, कोर्ट से हुए रिहा

नई दिल्ली ( 28 जून ): दिल्ली में एक पिता ने दरियादिली दिखाते हुए अपने बेटे के हत्यारों को माफ कर दिया। पिता द्वारा माफी दिए जाने के बाद दिल्ली के कोर्ट ने भी उनके बेटे के हत्यारों को रिहा कर दिया। हालांकि कोर्ट ने दोषियों का बैकग्राउंड ध्यान में रखते हुए उन्हें एक तय समयावधि के लिए रिहा किया है।


इन चारों को पार्किंग को लेकर हुए झगड़े में पीड़ित पर हमला करने के मामले में 10 साल की जेल की सजा सुनाई गई थी। कोर्ट ने कहा, 'दोषियों ने मृतक के पिता से माफी की गुहार लगाई थी, जिसके बाद पिता माफी देने के लिए तैयार भी हो गए थे। दोषियों में सुधार की पूरी संभावनाएं हैं।'


राहुल, संजीव दीपक और राजा ग्रामीण सेवा (फटफट सेवा) के ड्राइवर और क्लीनर थे। इन सभी पर पार्किंग के झगड़े को लेकर सनी नाम के युवक को बेरहमी से पीटने का आरोप था। सनी भी ग्रामीन सेवा का ड्राइवर था। 28 अप्रैल 2012 को अपना वाहन गलत तरीके से पार्क करने को लेकर सनी और इन चारों दोषियों के बीच झगड़ा हुआ था।