पंजाब: किसानों का हल्ला बोल, बोले- कर्ज के बोझ तले किसानों की प्रॉपर्टी की नीलामी बंद हो

मोहाली (24 मई): पंजाब में किसानों की आत्महत्या का मुद्दा गर्माता जा रहा है। किसानों की आत्महत्या के मुद्दे को लेकर सूबे 12 ज़िलों के किसान आज से धरना प्रदर्शन शुरु कर रहे हैं। किसानों का प्रदर्शन 5 दिन तक चलेगा। भारतीय किसान यूनियन के बैनर तले किसान ये अपनी आवाज़ बुलंद कर रहे हैं। 

5 दिन तक चलने वाले इस विरोध प्रदर्शन में किसान 8 जिलों में डिप्टी कमिश्नर के दफ्तर के बाहर प्रदर्शन करेंगे। जबकि 4 ज़िलों में SDM का घेराव किया जाएगा। किसानों की मांग है कि कर्ज के बोझ तले किसानों की प्रॉपर्टी की नीलामी बंद हो। खुदकुशी कर चुके किसानों के परिवारों को 5 लाख का मुआवज़ा दिया जाए। उन किसानों को ट्यूबवेल कनेक्शन दिए जाएं जिनके पास ढाई एकड़ से कम ज़मीन है। किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए प्रशासन ने सभी 12 ज़िलों के डीसी ऑफिस के आसपास सुरक्षा कड़ी कर दी है।