Blog single photo

देश में चल रहा किसान आंदोलन एक पब्लिसिटी स्टंट: कृषि मंत्री

केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने किसानों के आंदोलन को 'पब्लिसिटी स्टंट' करार दिया है। राधा मोहन सिंह पटना में एक कार्यक्रम में बोलते हुए यह बातें कहीं।

नई दिल्ली ( 2 जून ): एक तरफ जहां देशभर के किसान अपनी मांगों को लेकर सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर नेता-मंत्री उनके संघर्षों का मजाक उड़ा रहे हैं। किसानों की परेशानियां को दूर करने की कोशिश की जगह उनके प्रदर्शन को नाटक बताया जा रहा है। केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने किसानों के आंदोलन को 'पब्लिसिटी स्टंट' करार दिया है। राधा मोहन सिंह पटना में एक कार्यक्रम में बोलते हुए यह बातें कहीं।बता दें कि देशभर के किसान 1 से 10 जून तक हड़ताल पर हैं, जिसे उन्होंने 'गांव बंद' का नाम दिया है। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार के चार साल पूरे होने पर पटना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे किसान आंदोलन पर पूछे गए सवाल के जवाब में राधा मोहन सिंह ने कहा है कि मीडिया में आने के लिए अनोखे काम करने पड़ते हैं। उन्होंने कहा है कि कि देश में 12-14 करोड़ किसान हैं। हर किसान संगठन में 1000-500 किसान होंगे और इनको मीडिया में आने के लिए अनोखे काम करने पड़ते हैं।बिहार के विशेष राज्य की मांग के सवाल पर राधामोहन सिंह ने कहा कि 14 वें वित्त आयोग ने बैठक में केंद्र और राज्य के बीच के मामले में राज्यों का कर का हिस्सा बढ़ा दिया था ऐसे में अब पंद्रहवे वित्त आयोग की रिपोर्ट आने पर इसे देखा जायेगा। पेट्रोल-डीजल की बढ़ी कीमतों और किसानों को हो रही असुविधा को लेकर कृषि मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार इसको लेकर गंभीर है और इस पर नज़र रखी जा रही है।गौरतलब है कि मध्य प्रदेश सहित देश के कई राज्यों में किसान बंद आंदोलन आज से शुरू हो गया है। मध्य प्रदेश के मंदसौर गोलीकांड के एक साल पूरे होने पर किसान संगठनों द्वारा गांव बंद का ऐलान हुआ था।

Tags :

NEXT STORY
Top