सहारनपुर में फर्जी पेट्रोल पंप का भंडाफोड़

गौरव मिश्रा, गजनफर अली, मुरादाबाद (30 अप्रैल): चिप लगाकर पेट्रोल की चोरी और तेल के खेल में अब छापेमारी का दौर शुरू हो गया है। जिला प्रशासन की टीम लगातार छापेमारी कर रही है जिसमें रोज नए खुलासे हो रहे हैं। सहारनपुर में अवैध पेट्रोल पंप का खुलासा हुआ है, जिसे प्रशासन ने सील कर कारवाई शुरू कर दी है। जबकि मुरादाबाद में भी कई पेट्रोल पंप पर रेड कर तेल के खेल का भंडाफोड़ हुआ है।


दो दिन पहले लखनऊ में चिप से तेल चुराने का खेल पकड़ने के बाद सूबे में हड़कंप मच गया। शहर-शहर छापेमारी शुरू हो गई है और छापेमारी के दौरान नए नए खुलासे भी हो रहे हैं। कहीं नकली पेट्रोल का भंडाफोड़ हो रहा है तो कहीं प्रशासनिक अधिकारियों से छिपाकर चिप को बदलने की कवायद हो रही है। सहारनपुर में तो पूरा की पूरा पेट्रोल पंप ही फर्जी निकला।


जब सहारनपुर के इस पेट्रोल पंप पर छापामार दस्ता पहुंचा तो हड़कंप मच गया। दल बल के साथ चेकिंग शुरू हुई और जो खुलासा हुआ वो हैरान करने वाला है। यहां मशीने असली हैं, लेकिन बाकी सबकुछ फर्जी है। ताज्जुब की बात ये है कि इस पेट्रोल पंप के पास लाइसेंस ही नहीं है, फिर भी पेट्रोल बेचा जा रहा था। सिर्फ इतना ही नहीं यहां तो मिलावटखोरी का धंधा भी चल रहा था। पेट्रोल में केरोसिन तेल मिलाकर बेचा जा रहा था। छापामार दस्ता ने पंप को सील कर दिया।


मुरादाबाद में भी पंप पर छापा मारा गया। लखनऊ में छापेमारी के बाद मुरादाबाद शहर के इस पेट्रोल पंप ने पेट्रोल देना बंद कर दिया था। अधिकारियों को शक हुआ और जैसे ही अधिकारिय़ों की टीम पंप पर पहुंची तो वहां का नजारा देखकर हैरान रह गई। पंप की मशीने खुली हुई थी और एक मैकेनिक चिप के साथ छेड़छाड़ कर रहा था। चिप के साथ छेड़छाड़ कर रहे मैकेनिक को हिरासत में ले लिया गय़ा और पंप सील कर दिया गया।


इन घटनाओं ने ये साबित कर दिया है कि देश के अंदर कई पेट्रोल पंप हैं जो चिप लगाकर या फिर दूसरी तकनीक की मदद से ग्रहाकों को पेट्रोल कम देते हैं। ग्राहकों को चूना लगा रहे हैं और कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं। यूपी में तो अभी तेल के इस खेल पर शिकंजा कसने के लिए प्रशासन ने कमर कस लिया है अब बाकी शहरों की बारी है।