इस हसीन चेहरे के पीछे की सच्चाई जानकर रह जाएंगे दंग

लखनऊ (27 सितंबर): लखनऊ के गोमती नगर से एक ऐसी खबर सामने आई है, जिसको जानना आपके लिए भी बेहद जरूरी है। यहां फेसबुक पर एक ग्लैमरस चेहरा देखकर बिजली कॉन्‍ट्रैक्‍टर इतना मदहोश हो गया कि लूटने के बाद ही उसकी आंखे खुली।

चैटिंग के दौरान ब्रिटिश युवती ने कॉन्‍ट्रैक्‍टर से मिलने की इच्‍छा जताई और इंडिया आने का प्रस्‍ताव रखा। ऐसे में कॉन्‍ट्रैक्‍टर की खुशी का ठिकाना नहीं रहा और वो वेलकम के लिए तैयार हो गया।

पूरा मामला... - लखनऊ के गोमती नगर स्‍थित विशाल खंड निवासी सुरेश गुप्ता बिजली कॉन्‍ट्रैक्टर हैं। - सुरेश ने बताया कि फेसबुक में चैटिंग के दौरान 18 दिन पहले उनकी दोस्ती ब्रिटिश युवती से हुई थी। - उसने अपना नाम लेंडर जेरी बताया था। दोनों की लगातार 18 दिनों से एफबी पर चैटिंग का सिलसिला चलता रहा। - अचानक लेंडर जेरी ने अपने चैट में इंडिया आने की इच्छा जताई। - इस पर उन्‍होंने भी उसके वेलकम के लिए हामी भर दी। - लेंडर ने 17 सितंबर को कॉन्‍ट्रैक्टर के जी-मेल एकाउंट पर अपनी एयर टिकट भी भेजी थी।

दिल्ली एयरपोर्ट से आया था फोन... - सुरेश के पास 19 सितंबर को सुबह 9.30 बजे फोन नंबर 085889-57345 से उनकी मोबाइल पर किसी पूजा शर्मा नाम की लड़की का फोन आया। - पूजा शर्मा ने अपने आप को कस्टम अधिकारी बताया। - इसके बाद लेंडर जेरी के कस्टम क्लीयरेंस के नाम पर अतिरिक्त धन की जरूरत होने की बात बताई। - इसपर विश्वास कर सुरेश ने लेंडर जेरी के व्हाट्सएप नंबर +447593761514 के माध्यम से बताए गए आईसीआईसीआई बैंक खाता संख्या 104705001907, आईएफएससी कोड ICIC001047 और पैन नंबर BVFPG2602H पर अपने खाता नंबर 21401002641 से 50,000 रुपए ट्रांसफर कर दिए। - सुरेश के अनुसार, उसके करीब एक घंटे बाद पूजा शर्मा का दोबारा फोन आया। - इस पर उन्होंने 15,000 रुपए अपने अकाउंट से आईसीआईसीआई बैंक खाता संख्या 104701509487 आईएफएससी कोड ICIC001047 पैन नंबर BVFPG2602H पर और ट्रांसफर कर दिए।

लखनऊ का निकला एकाउंट नंबर - कॉन्‍ट्रैक्‍टर के अनुसार, जब उन्होंने भेजे गए पैसे की रिसीविंग देखी तो पाया कि उसमें एक खाता लखनऊ का है, जो किसी विवेक गुप्ता का है। - इसके बाद उन्होंने कथित लेंडर जेरी का टिकट पता कराया तो वह भी गलत निकला। - ठगी का अहसास होने पर कॉन्‍ट्रैक्‍टर ने आईजी रूल्स एवं मैन्युअल अमिताभ ठाकुर से संपर्क कर मदद मांगी। - कॉन्‍ट्रैक्‍टर सुरेश ने अब एसएसपी मंजिल सैनी से मिलकर गैंग के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहे हैं।