फेसबुक डेटा लीक मामले में जुकरबर्ग ने तोड़ी चुप्पी, दिया ये बड़ा बयान

नई दिल्ली(22 मार्च): फेसबुक यूजर्स के डेटा लीक मामले को लेकर मार्क जकरबर्ग ने चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने अपनी गलती स्वीकार की है। इसके साथ ही उन्होंने यूजर्स की प्रिवेसी को बनाए रखने के लिए कुछ कदम उठाए जाने की भी बात कही। 

- फेसबुक के सीईओ जकरबर्ग ने सीधे तौर पर कंपनी की गलती स्वीकार करते हुए कहा कि यूजर्स के डेटा की सुरक्षा करने की जिम्मेदारी हमारी है। 

- जकरबर्ग ने कहा कि यह विश्वास में सेंध लगने जैसा है। सोशल मीडिया साइट के साथ अपनी जानकारी साझा करने वाले लोग यह उम्मीद करते हैं कि हम उसकी सुरक्षा करेंगे।

- जकरबर्ग ने कहा, 'आपके डेटा की सुरक्षा करना हमारी जिम्मेदारी है। यदि हम ऐसा नहीं कर सकते तो हमें आपके लिए काम करने का हक नहीं है।' जकरबर्ग ने कहा, 'मैं यह समझने की कोशिश कर रहा हूं कि आखिर यह कैसे हुआ। इसके अलावा यह सुनिश्चित करने की भी कोशिश करेंगे कि दोबारा ऐसा न हो सके।' फेसबुक पर ही सार्वजनिक तौर पर अपनी राय रखते हुए जकरबर्ग ने यूजर्स के डेटा को सुरक्षित रखने के लिए कुछ कदम उठाए जाने की भी बात कही। 

- शुक्रवार को कैम्ब्रिज एनालिटिका की ओर से फेसबुक से गलत ढंग से 5 करोड़ लोगों के डेटा को हासिल करने की बात उजागर हुई थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक कैम्ब्रिज एनालिटिका ने इस डेटा के जरिए अमेरिका के राष्ट्रपति चुनाव को प्रभावित करने का काम किया था।