FB पर अपने नाम की फेक प्रोफाइल्स से परेशान हुईं UPSC टॉपर, कहा...

नई दिल्ली (17 मई):  यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा में टॉप करने वाली दिल्ली की टीना डाबी फेसबुक पर उनके नाम से बने हुए 35 से भी अधिक फर्जी पेज और प्रोफाइलों के चलते परेशान हैं। इन पेजों और प्रोफाइलों के जरिए टीना डाबी के नाम से कई ऐसी बातें कही जा रही हैं, जो उनके विचार हैं ही नहीं। 

'इंडियन एक्सप्रेस' के मुताबिक, इन प्रोफाइलों में से कई ऐसी हैं, जिनमें किसी में वह अपने पैरंट्स के साथ हैं जबकि कई ऐसी हैं जिनमें वह दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के साथ हैं। कुछ में वह न्यूज चैनल्स पर इंटरव्यू देती भी दिख रही हैं। टीना को सोमवार सुबह को वॉट्सऐप मेसेज के जरिए इस बारे में जानकारी मिली। सोमवार दोपहर को फेसबुक की टीम ने भी उन्हें ईमेल के जरिए जानकारी दी कि कई फेसबुक यूजर्स की शिकायतों के बाद उनके फर्जी प्रोफाइल को डी-ऐक्टिवेट कर दिया गया है। 

सोमवार शाम को डाबी ने फेसबुक पर सफाई देते हुए पोस्ट किया, "मेरे नाम से जितने भी बेहूदा बयान पेश किए जा रहे हैं, वे मेरे विचार नहीं हैं।" रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसे ही एक फेक प्रोफाइल पर लिखा गया, "प्रिय रुकावटो (डियर ऑब्सटेकल), मैं तुम्हारा विनाश कर दूंगी।" डाबी का कहना है कि मैंने हार्ड वर्क या डेडिकेशन को लेकर ऐसा कुछ कभी नहीं कहा। भविष्य में इन प्रोफाइल्स के जरिए और भी कुछ इससे ज्यादा बुरा अंजाम दिया जा सकता है। 

डाबी के नाम से कई ऐसे बयान वॉट्सऐप और फेसबुक पर शेयर किए जा रहे हैं। ऐसे ही एक फर्जी प्रोफाइल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के संबंध में उनकी राय को भी शेयर किया जा रहा है। जो उनकी वास्तविक राय नहीं है। हालांकि, डाबी ने फर्जी बयानों के बारे में कहा, "मैंने अपने इंटरव्यूज़ में हमेशा कहा है कि यह बेहद निजी सवाल है और मैंने यह भी कहा है कि दोनों शख्सियतों को लेकर मेरे मन में बेहद सम्मान है। लेकिन मैंने उस तरह का स्टेटमेंट कभी नहीं दिया।" 

डाबी ने कहा, "मैं 22 साल की सिंपल लड़की हूं जो बिना बात इस विवाद में घसीटी जा रही है। यह दिल दुखाने वाला है कि कुछ लोग मेरी सफलता को मुझे एन्जॉय नहीं करने दे रहे जो मैंने काफी मेहनत से प्राप्त की है।"