अब भारतीय यात्री अमेरिका में आसानी से कर सकेंगे प्रवेश

नई दिल्ली (27 जून): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा के दौरान ट्रंप प्रशासन ने भारत को ग्लोबल एंट्री प्रोग्राम में शामिल कर लिया है। इससे भारत के उन यात्रियों को लाभ मिलेगा जो अमेरिका जाते हैं।

उन्हें अब कस्टम क्लीयरेंस पर बहुत ज्यादा प्रतीक्षा नहीं करनी पड़ेगी। यह प्रोग्राम कस्टम व सीमा सुरक्षा से जुड़ा है। अमेरिका इस नीति से भारत को जोड़ने के बाद कम जोखिम वाले यात्रियों को अपने यहां आसान प्रवेश देगा।

यानि जिन यात्रियों का रिकार्ड अच्छा है उन्हें हवाई अड्डे पर झंझटों सामना नहीं करना पड़ेगा। उन्हें ऑटोमेटिक कियोस्क से प्रवेश दिया जाएगा। इमीग्रेशन अधिकारी से उनका अब पाला नहीं पड़ेगा।

यह सुविधा लेने के लिए यात्री को पहले आवेदन करना होता है। उसकी पृष्ठभूमि की जांच के बाद अमेरिकी सुरक्षा अधिकारी उसे हरी झंडी देते हैं। अभी तक ब्रिटेन व स्विटरलैंड के यात्रियों को यह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मोदी की मुलाकात के बाद संयुक्त बयान में इसकी घोषणा की गई। ट्रंप ने खुद माना है कि भारतीयों की उद्यमिता काबिले तारीफ है।