अब एसएमएस के जरिए मिलेगी पेंशन की जानकारी

नई दिल्ली (28 अगस्त): पूर्व सैनिकों को पेंशन प्राप्ति की जानकारी अब मोबाइल पर एसएमएम के माध्यम से दी जाएगी। डिफेंस अकाउंट्स विभाग ने इस बात की जानकारी दी। इसमें कंट्रोलर जनरल ऑफ डिफेंस अकाउंट्स नई दिल्ली के एसके कोहली (आईडीएएस) ने बताया कि इसके लिए पेंशनधारिकों से मोबाइल नंबर और आधार कॉर्ड जमा कराने को कह दिया गया है।

कोहली ने कहा कि भारत सरकार के रक्षा मंत्री पूर्व सैनिकों को मिल रही पेंशन को लेकर गंभीर हैं। वह निजी तौर पर पेंशनरों की मुश्किलें सुनकर उन्हें पहल के आधार पर हल करते हैं। पूर्व सैनिकों उनके परिवारों को पेंशन प्राप्ति के लिए सबसे अधिक मुश्किलें बैंकों में फेस करनी पड़ती हैं। पेंशनर को अपना आधार कार्ड और मोबाइल नंबर संबंधित बैंक में रजिस्टर्ड करवाना होगा। विभाग पेंशन संबंधी जारी सूचना उपभोक्ताओं को एसएमएस से मिला करेगी।

कोहली ने कहा कि इस सिस्टम के लागू होने से केवल सही उपभोक्ता ही इसका लाभ उठा सकेंगे। इसके साथ ही पेंशन राशि में बढ़ोत्तरी की सूचना भी उपभोक्ता को एसएमएस से मिल जाएगी। उन्होंने कहा कि देश भर में 46 हजार बैंकों के जरिए पूर्व सैनिकों और उनकी विधवाओं को पेंशन दी जाती है। उन्होंने कहा कि भारत में 64 डीपीटीओ कार्यालय जरुरतमंदों को मिलती पेंशन संबंधी मुकम्मल रिकार्ड रख रहे हैं। डिफेंस अकाउंट्स बैंकों में पेंशनरों का सारा डाटा विभाग के डाटे में मर्ज कर रही है ताकि विभाग जरुरतमंदों को सीधा लाभ दे सके। उन्होंने कहा कि विभाग ने हर पेंशनर की पेंशन संबंधी रिकार्ड चेक करने के लिए वेबसाइट तैयार की है।

वन रैंक-वन पेंशन को लेकर कोहली ने कहा कि इसका लाभ जल्द जरुरतमंदों को मिलेगा। लागू हुई 7वें पे-कमिशन की रिपोर्ट के तहत पूर्व सैनिकों के बनते कॅरिअर के पैसे भी जल्द उन्हें दिए जाएंगे। अगर किसी पेंशनर को कोई मुश्किल आती है तो वह उन्हें शिकायत कर सकता है।