पाकिस्तानी जासूस आईएसआई को दे रहे थे सेना के हर मूवमेंट की खबर

 

नई दिल्ली (29 अक्टूबर): उरी हमले के बाद भारतीय सेना द्वारा गुलाम कश्मीर में किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से ही पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी की नजर सेना के मूवमेंट पर टिकी है। गिरफ्त में आए आईएसआाई के दोनों जासूस मौलाना रमजान एवं सुभाष जांगिड़ लगातार राजस्थान एवं गुजरात सीमा पर तैनात सेना, बीएसएफ एवं पैरा मिलिट्री के मूवमेंट पर नजर रखते थे। दोनों ही जासूस आइएसआइ तक ये सूचनाएं लगातार पहुंचा रहे थे कि भारतीय सेना की कौन सी टुकड़ी कब सीमा से मूव हुई और कौन सी नई टुकड़ी वहां पर तैनात की गई। कौन सा अफसर कब वहां आया और उसका रैंक क्या है। मौलाना रमजान, सुभाष, शोएब सैन्य गतिविधियों एवं सामरिक दृष्टि से बेहद संवेदनशील व गोपनीय जानकारियां दुश्मन मुल्क को भेज चुका है।