डेढ़ साल में विरोधियों ने भी नहीं लगाया भ्रष्टाचार का आरोप : मोदी

बेलगाम (कर्नाटक) 27 फरवरी :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि बीते 18 महीने के उनकी सरकार के कार्यकाल में विरोधियों ने भी सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगाया। बेलगाम में किसानों की रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने भ्रष्टाचार रोकने को लेकर अपनी सरकार की पीठ थपथपाई।

मोदी ने कहा कि जब उन्हें सत्ता मिली थी तो देश परेशान था। जल, थल और नभ हर जगह भ्रष्टाचार था लेकिन उन्होंने सत्ता संभालते ही हालात सुधारने का काम किया। मोदी ने कहा कि उनके विरोधी बेशक सुबह-शाम बेवजह के मुद्दों पर बयान देते रहे लेकिन सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप वो भी नहीं लगा सके।

मोदी ने वैश्विक मंदी के बीच भी भारत की अर्थव्यवस्था के आगे बढ़ते रहने की बात कही। मोदी ने कहा कि संकट मे भी रफ्तार बनाए रखनी है तो विकास की यात्रा को तीन आर्थिक पिलरों पर खड़ा करना होगा। ये तीन पिलर हैं- मैन्युफैक्चरिंग, कृषि और सर्विस सेक्टर।

रेली में मोदी ने किसानों के बीच फसल बीमा योजना और मृदा कार्ड जैसी योजनाओं की भी जमकर तारीफ की। साथ ही पानी को बचाने का संदेश देते हुए कहा कि हमें एक एक बूंद पानी की कीमत समझनी होगी।

मोदी ने ये भी कहा कि मनरेगा को गड्ढे खोदने के लिए पैसे बर्बादी का ज़रिया नहीं होना चाहिए। उन्होंने सिचाई योजनाओं के काम को मनरेगा में प्राथमिकता देने का संकेत दिया।