वोट खरीदने के लिए यहां बांटी जा रही हैं 'मर्दानगी' की पिल्स...

 

नई दिल्ली (13 अप्रैल): चुनावों के दौरान नागरिकों का वोट खरीदने के लिए नेताओं की तरफ से तरह-तरह की तरकीबें करने और लालच देने के बारे में आपने सुना होगा। इसमें तोहफों, पैसों और शराब के खेल में आपने भी काफी देखा-सुना होगा। लेकिन दक्षिण कोरिया से चुनाव में वोट खरीदने का एक बेहद हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है।

इस समय दक्षिण कोरिया में लेजिस्लेटिव इलैक्शन्स का दौर चल रहा है। ऐसे में यहां के उम्रदराज नागरिकों का वोट हासिल करने के बदले में उन्हें कथित तौर पर 'इरैक्टाइल डिस्फंक्शन (शारीरिक संबंध के दौरान पुरुषों की समस्या)' की ड्रग्स बांटी जा रही हैं। प्रॉसीक्यूटर्स ने मंगलवार को इस कथित उल्लंघन के मामले में जांच की घोषणा करत हुए यह खुलासा किया है।

'मिड-डे' की रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिण कोरिया में बुधवार को मतदान हो रहा है। बताया जा रहा है वोट खरीदने का यह मामला राजधानी सियोल के 30 किलोमीटर दक्षिण में सुवन का है। सुवन प्रॉसीक्यूटर्स के ऑफिस के प्रवक्ता ने बताया, "हमें अभी भी आरोपों को साबित करना है। अगर यह साबित हो जाता है तो यह चुनावी आचार संहिता का उल्लंघन होगा।" 

दक्षिण कोरिया में वोट खरीदने पर 5 साल तक की जेल की सज़ा हो सकती है। या इसके अलावा 1 करोड़ वन (79 लाख रुपए) का जुर्माना लग सकता है।

दक्षिण कोरिया में इरैक्टाइल डिस्फंक्शन ड्रग्स डॉक्टरी परामर्श के बाद ही जाती हैं। प्रॉसीक्यूटर्स इस बात की जांच करेंगे कि किस तरह से उम्मीदवार का बहुत सारी डॉन्ग-ए लिविडो डेली से संबंध है। वोट खरीदने के जोखिम में दोषी पाए जाने पर चुनावी जीत से भी वंचित किया जा सकता है। इसके अलावा वोटर्स को भी कैश या गिफ्ट की कीमत का 50 गुना जुर्माना देना पड़ सकता है।