टूट चुके हैं स्टोक्स, नहीं सुन रहे किसी की

नई दिल्ली(4 अप्रैल): इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि यहां आईसीसी विश्व टी20 फाइनल में वेस्टइंडीज के खिलाफ अंतिम ओवर में कालरेस ब्रेथवेट के लगातार चार छक्के जड़ने से आलराउंडर बेन स्टोक्स टूट गए हैं। वेस्टइंडीज को अंतिम ओवर में जीत के लिए 19 रन की दरकार थी जिसके बाद ब्रेथवेट ने पहली चार गेंदों पर चार छक्के जड़कर टीम को जीत दिला दी और फिर स्टोक्स अपना सिर पकड़कर बैठ गए।

यह पूछने पर कि स्टोक्स इस निराशा से कैसे उबर रहे हैं मोर्गन ने कहा कि मेरे नजरिये से यह काफी सामान्य है। उसे टूटना ही था। अगले कुछ दिनों तक इसका असर दिखेगा। लेकिन हम पीड़ा को बांटते हैं, हम सफलता को साझा करते हैं। आप कह सकते हैं कि आप उसके साथ हैं लेकिन संभवत: वह इसे नहीं सुन रहा। मोर्गन ने कहा कि क्रिकेट क्रूर खेल है और वेस्टइंडीज की पारी में अधिकांश समय मैच पर नियंत्रण बनाए रखने के बावजूद उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

मोर्गन ने कहा कि यह संभव है। ऐसा अभी हुआ है। क्रिकेट क्रूर खेल हो सकता है। मुझे लगता है कि हमने गेंद के साथ शानदार प्रदर्शन किया। किसी भी समय वेस्टइंडीज उतना करीब नहीं था जितना वे चाहते थे। मोर्गन ने कहा कि संभवत: वेस्टइंडीज ने कभी नहीं सोचा कि वे मैच से बाहर हो गए हैं। इस दिल तोड़ने वाली हार के बावजूद मोर्गन ने कहा कि उन्हें अपने खिलाड़ियों पर गर्व है।

इंग्लैंड के कप्तान ने कहा कि कुल मिलाकर मुझे अपने खिलाड़ियों पर गर्व है। मैंने कल मैच से पहले यह कहा था। आज हमें मैदान पर स्वतंत्रता के साथ खेलना था। मुझे बेहद गर्व है। यह किसी चीज की शुरूआत है। उम्मीद करता हूं कि यह विशेष होगा। उम्मीद करते हैं कि हम खिलाड़ियों के इस समूह को लंबे समय तक एकजुट रख पाएंगे।