जस्टिन बीबर को क्या है बीमारी ? जानिए क्या होता है रामसे हंट सिंड्रोम

पॉप सेंसेशन जस्टिन बीबर (Justin Bieber) ने शुक्रवार को अपनी तबीयत और शारीरिक परिस्थिति का खुलासा कर सभी चौंका दिया। जानिए जस्टिन बीबर की बीमारी के बारे में सबकुछ-

जस्टिन बीबर को क्या है बीमारी ? जानिए क्या होता है रामसे हंट सिंड्रोम
x

मुंबई: पॉप सेंसेशन जस्टिन बीबर (Justin Bieber) ने शुक्रवार को अपनी तबियत और शारीरिक परिस्थिती का खुलासा कर सभी चौंका दिया। उन्होंने खुलासा कि एक वायरल बीमारी ने उनके चेहरे के एक हिस्से को अस्थायी रूप से पैरालाइज्ड (लकवा) बना दिया है। इस बीमारी के चलते उन्हें अपने शो को रद्द करना पड़ा। उन्होंने दुनियाभर में मौजूद अपने फैंस को अपनी बीमारी के बारे में बताते हुए खुलासा किया कि सिंगर 'रामसे हंट सिंड्रोम' नामक एक दुर्लभ बीमारी से जूझ रहे हैं।  


एक इंस्टाग्राम वीडियो में, बीबर (Justin Bieber suffering from Ramsay Hunt Syndrome) ने कहा कि इस वायरस ने उनके चेहरे के दाहिने हिस्से को पूरी तरह से पंगु बना दिया है। वीडियो में जस्टिन को कहते हुए सुना जा सकता है "जैसा कि आप देख सकते हैं, ये आंख नहीं झपक रही है। मैं अपने चेहरे के इस तरफ से मुस्कुरा नहीं सकता ...मेरे चेहरे का ये हिस्सा पूरी तरह पैरालाइज हो चुका है"। 






और पढ़िए – International Yoga Day 2022: इस बार इंटरनेशनल योगा डे पर मोदी सरकार के 75 मंत्री 75 जगहों पर करेंगे योग



क्या होता है रामसे हंट सिंड्रोम? (What is Ramsay Hunt Syndrome?)

रामसे हंट सिंड्रोम एक न्यूरोलॉजिकल बीमारी है जिसमें एक वायरस - वैरीसेला जोस्टर - चेहरे की गतिविधियों में शामिल नसों में सूजन पैदा कर देता है। जब नसों में सूजन हो जाती है, तो वे कार्य करने की क्षमता खो देती हैं, जिससे अस्थायी रूप से चेहरा पैरालाइज्ड हो जाता है। इसका मतलब ये है कि संक्रमित व्यक्ति के चेहरे की मांसपेशियों को ठीक से काम करने के लिए आवश्यक संकेत नहीं मिल पाते हैं।


रामसे हंट सिंड्रोम के लक्षण क्या हैं? (What are the symptoms of Ramsay Hunt Syndrome?)

रामसे हंट सिंड्रोम के लक्षणों की बात करें तो, कान के अंदर और आसपास दर्द, लाल चकत्ते और छाले शामिल हैं। इसके अलावा मरीज़ के उसी हिस्से के कान से सुनने की क्षमता भी खो देता है। इनके अलावा आंख बंद करने में असमर्थता और आंखों में सूखेपन की भी शिकायत होती है।


रामसे हंट सिंड्रोम का कारण बनने वाला वायरस क्या है? (What is the virus that causes Ramsay Hunt Syndrome?)

Varicella Zoster Virus (VZV) एक ऐसा वायरस है जो चिकनपॉक्स और दाद का भी कारण बनता है। यूएस सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन की रिपोर्ट के मुताबिक, यह वायरस हर्पीसवायरस समूह से संबंधित है और शरीर में एक गुप्त संक्रमण के रूप में रह सकता है। वायरस किसी व्यक्ति के शरीर में निष्क्रिय रह सकता है और नसों पर हमला करने के लिए फिर से जाग सकता है। 


डॉक्टरों के अनुसार, इम्यूनिटी कमजोर होने के चलते VZV फिर से सक्रिय हो सकता है। कुछ रिसर्च में दावा किया गया है कि इसका एक मुख्य कारण तनाव भी हो सकता है, क्योंकि यह इम्यूनिटी को कमजोर करता जाता है। कुछ रिपोर्ट्स में ये भी बताया गया है कि कोरोनावायरस संक्रमण के कारण होने वाली टी-सेल की शिथिलता VZV को फिर से सक्रिय कर सकती हैं।


रोग कैसे बढ़ता है? (How does the disease progress?)

शुरुआत में, मरीज को चेहरे की कमजोरी और एक आंख बंद करने में थोड़ी कठिनाई की शिकायत हो सकती है। यह रोग दो से तीन दिनों में पूरी तरह से प्रकट हो जाता है। हालांकि, शीघ्र उपचार इसे तेजी से बढ़ने से रोकने में मददगार साबित हो सकती है और नसों को हानि पहुंचने के संभावना कम हो जाती है।




और पढ़िए –  International Yoga Day 2022: डेली रुटीन में शामिल करें ये 3 आसान योगासन, एंग्जाइटी की समस्या को दे सकते हैं मात




रामसे हंट सिंड्रोम का इलाज कैसे किया जाता है? (How is Ramsay Hunt Syndrome treated?)

इसका इलाज एंटी-वायरल दवाओं, स्टेरॉयड और फिजियोथेरेपी का उपयोग करके किया जाता है। इसके अलावा चेहरे के व्यायाम बहुत महत्वपूर्ण हैं। मरीजों को अपनी आंखों की रक्षा करने की जरूरत है। जब एक आंख बंद नहीं होती है, तो कॉर्निया में दिक्कत आने की संभावना बढ़ जाती है। मरीजों को आंसू की बूंदों का उपयोग करना चाहिए और आंखों की सुरक्षा का उपयोग करना चाहिए। बाहर जाते वक्त चश्मा पहनना चाहिए और रात को सोते समय आंखों पर पट्टी बांधनी चाहिए


क्या रामसे हंट सिंड्रोम संक्रामक हैं? (Is Ramsay Hunt Syndrome contagious?)

रोग संक्रामक नहीं है, लेकिन उन लोगों में चिकनपॉक्स हो सकता है जिन्हें इस बीमारी का टीका नहीं लगाया गया है। जब तक छाले पड़ जाते हैं, रोगियों को सलाह दी जाती है कि वे कम प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों और जिन्हें चिकनपॉक्स नहीं हुआ है, या इसके खिलाफ टीका नहीं लगाया गया है, उनके संपर्क में आने से बचें।


क्या मरीज रामसे हंट सिंड्रोम से पूरी तरह ठीक हो जाते हैं? (Do patients recover fully from Ramsay Hunt Syndrome?)

बिल्कुल इसका इलाज संभव है। इलाज शुरू होने के 15 दिनों से तीन महीने के भीतर मरीज ठीक हो जाते हैं।


इस खबर में दी गई तथ्यों की जिम्मेदारी News24 नहीं लेता है। उपलब्ध जानकारी के अनुसार ही इस रिपोर्ट को बनाया गया है।  




और पढ़िए – हेल्थ से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें







Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story