Blog single photo

राष्ट्रपति शासन के बाद बिना जवाब दिए चलते बने अभिनेता

महाराष्ट्र में सियासी उठा-उठक के बीच राज्यपाल की सिफारिश के बाद राष्ट्रपति शासन लग गया है। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी, शिवसेना और एनसीपी को समर्थन जुटाकर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए समय दिया था

Image Source Google

प्रवीण मिश्रा, न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई(12 नवंबर): महाराष्ट्र में सियासी उठा-उठक के बीच राज्यपाल की सिफारिश के बाद राष्ट्रपति शासन लग गया है। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बीजेपी, शिवसेना और एनसीपी को समर्थन जुटाकर सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए समय दिया था, लेकिन कोई भी राजनीतिक दल समर्थन का पत्र राज्यपाल को नहीं सौंप पाया था। किसी भी राजनीतिक दल के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं होने के बाद राज्यपाल ने गृहमंत्रालय को राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश की थी।  राष्ट्रपति ने मंजूरी मिलने के बाद महाराष्ट्र की राजनीति से बेहद करीब रहने वाले कांग्रेस के पू्र्व सांसद और अभिनेता गोविंदा ने कहा कि वो राजनीति से निकल चुके है, वहीं गुरूदासपुर से सांसद और अभिनेता सन्नी देओल भी बिना कुछ बोले ही चलते बने। 

टीवी के डिबेट और लाइव में रोजना ज्ञान बाटने वाले पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चौहान को तो मानों सांप सुघ गया उन्होंने अपनी सुरक्षा के चलते कैमरे से बच निकले पुरी तरह से खामोश थे दुसरी तरफ फोन पर बात कर रहे थे। कैमरा देख एयरपोर्ट पर इनके चेहरे का रंग ही उड गया। 

महाराष्ट्र की राजनीति से इन नेताओं का एकदम करीबी नाता है इसी मुंबई (महाराष्ट्र) ने इनको नाम शोहरत सब कुछ दिया आज जब राष्ट्रपति शासन में महाराष्ट्र घिर गया है तो इनकी जुबा पर ताला लग गया है। कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना की कवायत कामयाब नहीं हो पायी है। बता दें कि महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बीजेपी और शिवसेना के गठबंधन को सबसे ज्यादा सीटें मिली थी, लेकिन शिवसेना के 50-50 के फॉर्म्युला ने सारे समीकरण बिगाड़ दिए थे। शिवसेना की जिद के चलते ही बीजेपी सरकार बनाने का दावा पेश नहीं कर पाई थी। 

Tags :

NEXT STORY
Top