लड़ाकू जहाजों की गडगड़ाहट से फट जायेगा दुश्मन का सीना

नई दिल्ली (8 अक्टूबर ): दुश्मन, भारत की वायुसेना के लड़ाकू विमानों की सैन्य ताकत को देखकर दांतों तले उगंलियां दबाने को मजबूर हो जाएंगे। जब सुखोई, मिग, मीराज और चेतक जैसे विमान उड़ान भरेंगे तो दुश्मनों के सीने फट जायेंगे।  आज  दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना अपनी 84वीं वर्षगांठ मना रही है। 

इस कार्यक्रम में देश के सबसे उन्नत किस्म के लड़ाकू विमान अपना जौहर दिखाएंगे। आज के कार्यक्रम में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के भी शामिल होने की संभावना है। दरअसल सचिन भारतीय वायुसेना में मानद ग्रुप कैप्टन हैं। सचिन को यह सम्मान 2010 में दिया गया था।