फ्रांस में तूफानी बारिश-बाढ़ की विभीषिका- 11 मरे, अस्थाई शेल्टरों में रात गुजार रहे हैं हजारों लोग

नई दिल्ली (3 जून): पिछले दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश और तूफान से फ्रांस और जर्मनी में भारी तबाही मची हुई है।मौसम विभाग ने कहा है कि ये बारिश अभी जारी रह सकती है। कहा रहा है तीन दिनों में इतनी बारिश हुई है जितनी कम से कम छह हफ्तों में आपेक्षित थी। हालत यह है कि राजधानी पैरिस स्थित जिस लूव्रे म्यूजियम कोबंद कर दिया गया है। वहां के स्टाफ को बेशकीमती कलाकृतियां म्यूजियम से हटाने का निर्देश दिया गया है। बाढ़ के कारण म्यूजियम की गैलरी के बड़े हिस्से का नुकसान होने की आशंका है।

बारिश के कारण सेन नदी का जलस्तर सामान्य से 6 गुना ज्यादा बढ़ गया है। फ्रांस के अलावा यूरोप के बाकी देश भी भारी बारिश की चपेट में है। लगातार हो रही बारिश के कारण 11 लोग मारे गए हैं। ज्यादातर मौतें जर्मनी में हुई हैं। सेंट्रल यूरोप में भारी बारिश की भविष्यवाणी की गई है। सेन नदी में इमर्जेंसी बैरियर को मुस्तैद कर दिया गया है। जलस्तर बढ़ने के कारण नदी के तटों को नुकसान पहुंचा है।

पैरिस में बाढ़ का पानी और भयावह रूप ले सकता है, क्योंकि सेन नदी का जलस्तर समान्य से 6 मीटर ऊपर आ गया है। हजारों लोगों को घर छोड़ना पड़ा है। दक्षिणी जर्मनी के कई शहर तहस-नहस हो गए हैं। बाढ़ का बेल्जियम और पोलैंड पर भी बुरा असर पड़ा है। फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने कहा कि ऐसा मौसम गंभीर जलवायु परिवर्तन का प्रतिफल है। उन्होंने कहा कि यह एक ग्लोबल चुनौती है। बुरी तरह से प्रभावित इलाकों में उन्होंने प्राकृतिक आपदा की घोषणा की है।  (तूफानी बारिश से फ्रांस में आयी तबाही के फोटो)

1-

2-

3-

4-

5-

6-

7-

8-

9-

10-

11-

12-

13-

14-

15-

16-

17-

18-

19-

20-

21-

22-

23-