नेपाल में चुनाव जल्द न हुए तो स्थिति गंभीर हो सकती है- प्रचण्ड

नई दिल्ली (13 फरवरी): नेपाल के प्रधानमंत्री प्रचंड ने कहा कि 11 महीने के भीतर सभी त्रिस्तरीय चुनाव नहीं कराए गए तो देश में गंभीर संकट पैदा हो सकता है। माओवादियों ने रविवार को 22वां ‘पीपुल्स वॉर डे’ मनाया। सीपीएन (माओवादी केंद्र) के चेयरमैन प्रचंड ने कहा कि माओवादियों के ‘जनसंघर्ष’ के जरिए हासिल की गई उपलब्धियों को किसी भी कीमत पर बेकार नहीं जाने दिया जाएगा।

सीपीएन पार्टी के कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर हमें एक और बलिदान के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने जोर देकर कहा कि नए संविधान और विद्रोह से मिली कामयाबी को सुरक्षित रखने के लिए त्रिस्तरीय चुनाव 11 महीने में कराए जाने जरूरी हैं।

संविधान पर उन्होंने कहा कि यह एक ‘डायनमिक डॉक्यूमेंट’ हैं और समय के साथ इसमें संशोधन हो सकता है। उन्होंने कहा कि सभी देशवासियों के अधिकारों की रक्षा के लिए सरकार प्रयासरत है।