EC ने EVM हैकिंग के लिए दी चुनौती, दिया 14-15 मई का समय

नई दिल्ली (12 मई): चुनाव आयोग ने राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के साथ हुई बैठक में ईवीएम हैकिंग की चुनौती दी है। चुनाव आयोग ने चैलेंज देते हुए कहा है कि राजनैतिक पार्टियां ईवीएम को हैक करके दिखाए और इसके लिए दो दिन का वक्त दिया है।


बीजेपी विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने कहा कि दो दिन हैकोथॉन हो सकता है। चुनाव आयोग ने दो दिन बाद सबको बुलाया है। चुनाव आयोग ने बताया कि ईवीएम हैक नहीं हो सकती। चुनाव आयोग ने कहा कि दो दिन हम आपको मशीन देंगे। अपने एक्सपर्ट लेकर आइए और साबित कीजिए।


चुनाव सुधार और ईवीएम के मुद्दे पर चुनाव आयोग की आज 55 राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों से मुलाकात हुई। आयोग ने ईवीएम की विश्वसनीयता पर चर्चा करने के लिए 7 राष्ट्रीय पार्टियों और 48 राज्य स्तरीय पार्टियों की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में सभी 7 राष्ट्रीय दल और राज्यस्तरीय प्रमाणिक दल (48 में से 35) शामिल हुए।


आज मुख्य चुनाव आयुक्त के शुरुआती भाषण से बैठक की शुरुआत हुई। चुनाव आयोग ने बैठक में एक प्रेजेंटेशन भी दिखाया। इस बैठक से कुछ दिन पहले आम आदमी पार्टी (आप) ने दिल्ली विधानसभा में ईवीएम जैसी एक वोटिंग मशीन की हैकिंग को प्रदर्शित किया था। पार्टी ने इस प्रदर्शन के लिए ईवीएम के एक डमी का इस्तेमाल किया था। हालांकि, चुनाव आयोग ने आप के दावे को खारिज करते हुए कहा कि यह ईवीएम जैसा दिखता है लेकिन वह चुनाव आयोग का ईवीएम नहीं है।


गौरतलब है कि ईवीएम में लोगों का विश्वास खत्म हो जाने का दावा करते हुए 16 पार्टियों ने आयोग से मतपत्र के जरिए चुनाव कराने की व्यवस्था की ओर लौटने का अनुरोध किया था।