Blog single photo

अमित शाह का राहुल पर हमला, कहा- 2024 तक घुसपैठिकयों को देश से करेंगे बाहर

हरियाणा और महाराष्ट्र के विधानसभा चुनावों से पहले देश में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और अवैध घुसपैठियों का मुद्दा अब राजनीतिक भाषणों का हिस्सा बन चुका है।

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(16 अक्टूबर): महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा का चुनाव अब खूब जोर-शोर से चल रहा है। कांग्रेस और बीजेपी के दिग्गज नेताओं ने चुनाव जीतने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। देश में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) और अवैध घुसपैठियों का मुद्दा अब राजनीतिक भाषणों का रूप ले चुका है। कांग्रेस पर देश में घुसपैठियों के मुद्दे पर चुप्पी साधने का आरोप लगाते हुए बीजेपी जहां राहुल गांधी और पूर्ववर्ती यूपीए सरकार की आलोचना कर रही है, वहीं केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने बुधवार को कहा है कि राहुल गांधी चाहे कितनी भी आपत्ति करें 2024 तक देश से हर घुसपैठिए को बाहर किया जाएगा।

हरियाणा चुनाव से पहले बुधवार को गुरुग्राम में रैली करने पहुंचे अमित शाह ने कहा, 'राहुल बाबा को आपत्ति करने दीजिए, हुड्डाजी को आपत्ति करने दीजिए, मैं आपसे यह वादा करने आया हूं कि 2024 से पहले हर एक घुसपैठिए को देश से बाहर निकाल दिया जाएगा।' गुरुग्राम की रैली से पहले पानीपत में भी शाह ने कांग्रेस पर एनआरसी का विरोध करने पर सवालिया निशान खड़ा किया। शाह ने कहा कि जब बीजेपी घुसपैठियों को देश से बाहर निकालने की बात करती है तो कांग्रेस कहती है कि आप उन्हें क्यों निकाल रहे हैं? वे कहां जाएंगे? वे क्या खाएंगे? मैं कांग्रेस से पूछता हूं, वे (घुसपैठिए) आपके मौसेरे भाई लगते हैं क्या?'

आतंकवाद और जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाने के मुद्दे को लेकर शाह ने कहा कि जो अनुच्छेद 370 देश के अंदर आतंकवाद का कारण था और कश्मीर के विकास में बाधक था उसे नरेंद्र मोदी सरकार ने हटाने का काम किया है। अनुच्छेद 370 के कारण देश के हर नागरिक को लगता था कि कश्मीर के साथ उसका जुड़ाव आधा अधूरा है, लेकिन अब ऐसी स्थितियां नहीं हैं।

'10 साल तक दहशतगर्द फैलाते रहे आतंक'

पूर्व की सरकारों की आलोचना करते हुए शाह ने कहा कि पहले कश्मीर के विकास के लिए वहां पर करोड़ों रुपये भेजे जाते थे, लेकिन अनुच्छेद 370 के कारण राज्य का विकास नहीं हो पाता था। वहीं 10 वर्षों तक कांग्रेस के राज में पाकिस्तान से आए दहशतगर्द भारत में आतंक फैलाते थे, लेकिन मनमोहन सिंह के मुंह से आह नहीं निकलती थी। जब केंद्र में बीजेपी की सरकार आई तो हमारे वीर जवानों ने पाकिस्तान के अंदर जाकर आतंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्राइक की और उन्हें वहीं मार गिराया।

'बटन गुरुग्राम में दबे और करंट इटली में लगे'

गुरुग्राम की रैली में शाह ने भीड़ से सवाल करते हुए कहा कि मैं यहां के लोगों से पूछने आया हूं कि आप 21 तारीख को हमारे दोनों प्रत्याशियों को जिताएंगे क्या? क्या आप कमल के निशान पर बटन दबाकर नरेंद्र मोदी के हाथ को मजबूत करेंगे और मनोहर लालजी को फिर से सीएम बनाएंगे? देखिए आपको कमल के निशान पर बटन दबाना है लेकिन आप ये बटन इतनी तेजी से दबाना कि बटन गुरुग्राम में दबे और करंट इटली में लगे।

Tags :

NEXT STORY
Top