मिस्र: मस्जिद पर जुमे के दिन बड़ा आतंकी हमला, 27 बच्चों समेत 305 की मौत

नई दिल्ली ( 25 नवंबर ): मिस्र के उत्तरी सिनाई क्षेत्र में कल एक मस्जिद में आतंकी हमले में 27 बच्चों समेत 305 से अधिक लोग मारे गए और सैंकड़ों अन्य घायल हो गए। इस भयंकर हमले की जिम्मेदारी किसी भी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है लेकिन माना जा रहा है इसके पीछे इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन का हाथ है। 

स्थानीय टेलीविजन पर दिखाई गई तस्वीरों में खून से सने लोग मस्जिद के भीतर कंबलों में लिपटे हुए दिखाई दे रहे हैं। यह हमला उस समय हुआ जब लोग जुम्मे की नमाज पूरी कर रहे थे और इसी दौरान एक जोरदार धमाका हुआ। 

आतंकियों ने पहले आइईडी (इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) से धमाका किया और उसके बाद ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी। घटनास्थल पर दर्जनों लोगों के चीथड़े को उड़ते देखा गया। उसके बाद मस्जिद के बाहर जीपों से उतर कर कम से कम 40 बंदूकधारियों ने बाहर निकलने के कोशिश कर रहे लोगों पर चारों तरफ से गोलियां चलानी शुरू कर दी। 

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि जो लोग मस्जिद से बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे ,बाहर खड़े हथियारबंद लोग उन्हें निशाना बना रहे थे और उन्होंने महिलाओं, बच्चों तथा बूढ़ों को भी नहीं बख्शा। अभी तक आतंकवादी पुलिस और सेना के ठिकानों अथवा इनके वाहनों को ही निशाना बनाते थे लेकिन अब मस्जिद को निशाना बनाया जाना उनकी नई रणनीतिक का हिस्सा है।