Blog single photo

आप भी हो सकते हैं 'रॉ' में शामिल, पढ़ें पूरी जानकारी

विश्व के सभी देशों ने अपने देश की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए एक खुफिया एजेंसी का गठन किया हुआ है। वहीं अगर भारत की बात की जाए तो यहां की खुफिया एजेंसी रॉ है। जिसकी फुल फॉर्म है 'रिसर्च एंड एनालिसिस विंग' है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 अक्टूबर): विश्व के सभी देशों ने अपने देश की सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए एक खुफिया एजेंसी का गठन किया हुआ है। वहीं अगर भारत की बात की जाए तो यहां की खुफिया एजेंसी रॉ है। जिसकी फुल फॉर्म है 'रिसर्च एंड एनालिसिस विंग' है।बहराल, अगर आप भी देश की सेवा करना चाहते हैं और रॉ एजेंट बनना चाहते हैं तो आपको बता दें, जो लोग अपना नाम पाना चाहते हैं उनके लिए ये फील्ड नहीं है, क्योंकि यहां ऐेसे लोगों की जरूरत होती है, जो अपनी पहचान छिपाकर रखें। क्योंकि ये पूरी तरह से जासूसी का कार्य है।रॉ में शामिल होने के लिए कोई डायरेक्ट भर्ती नहीं होती है। इसमें शामिल होने से पहले आपको डिफेंस सेक्टर या फिर इंडियन सिविल डिपार्टमेंट में शामिल होना होगा। इन डिपॉर्टमेंट्स में अच्छा एक्सपीरियंस लेने के बाद और अच्छा करने के बाद आपको रॉ में भर्ती के लिए एक इंटरव्यू देना होगा।जिसमें पास होने के बाद आप रॉ में भर्ती के लिए योग्य माने जाएंगे। रॉ एजेंट और इंटेलिजेंस ऑफिसर के पद में उच्च पद के उन अधिकारियों को विदेश- भारत में कार्य करने के लिए एक गुप्त एजेंट के रूप में नियुक्त करता है जो नेशनल लेवल की सर्विस में हो। वहीं साथ ही मुख्य रूप से रक्षा और सुरक्षा के दौरान मुख्य रूप से IPS ऑफिसर्स, इंटेलिजेंस ऑफिसर्स (आईबी ऑफिसर्स) और CID ऑफिसर्स रहे हों। बता दें, रॉ डिपार्टमेंट आमतौर पर सिविल सर्विस डिपॉर्टमेंट और पुलिस डिपार्टमेंट से ही उम्मीदवार चुनते हैं।

Tags :

NEXT STORY
Top