AJL घोटालाः मोतीलाल बोरा की बढ़ीं मुश्किलें, ED ने की पूछताछ


नई दिल्ली (20 अप्रैल): असोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) जमीन घोटाला मामले में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही हैं। सूत्रों के हवाले से खबर है कि इन दोनों कांग्रेस नेताओं से गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय  ने इस घोटाले के सिलसिले में पूछताछ की है। इसके पहले सीबीआई ने भी हुड्डा के खिलाफ इस मामले में केस दर्ज किया था। जिस वक्त एजेएल को जमीन आवंटित की गई थी, उस समय हुड्डा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष थे और वोरा प्रदेश के राज्यपाल थे।


 इसके पहले सीबीआई ने भी हरियाणा के पंचकूला में असोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को जमीन आवंटन मामले में हुड्डा के खिलाफ केस दर्ज किया था। यह भी कहा जा रहा था कि इस मामले में जांच की आंच कांग्रेस आलाकमान तक भी पहुंच सकती है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी से भी पूछताछ की संभावना जताई जा रही थी। प्रवर्तन निदेशालय इस मामले की जांच पहले से कर रहा है।

साल 1982 में एजेएल को पंचकूला में जमीन आवंटित की गई थी, लेकिन साल 1992 तक उस पर कोई निर्माण कार्य नहीं किया गया। इसके बाद प्राधिकरण ने इस भूखंड को फिर से अपने कब्जे में ले लिया। एजेएल को 2005 में यही भूखंड फिर से आवंटित कर दिया गया। प्राधिकरण के तत्कालीन अध्यक्ष मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने इस आवंटन में कथित तौर पर नियमों का उल्लंघन किया। वोरा पर भी नियमों की अनदेखी का