जो पिछले 10 साल में नहीं हुआ मोदी सरकार ने 15 महीने में कर दिखाया

नई दिल्ली (30 जुलाई): भले ही मोदी सरकार की यह कहकर आलोचना की जाती हो कि वह सिर्फ कुछ बिजनेसमैन को फायदा पहुंचाने के लिए काम कर रही है, लेकिन जो आंकड़े सामने आए हैं वह लोगों को हैरान करने के लिए काफी हैं। ED ने पिछले 15 महीने में करीब 12 हजार करोड़ रुपए की सम्पत्ति जब्त की है। ये रकम पिछले 10 साल में ED की ओर से जब्त की गई संपत्ति की रकम से भी ज्यादा है। 

केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री संतोष गंगवार के मुताबिक ED ने पिछले एक साल में 175 प्रोविजनल अटैचमेंट ऑर्डर जारी करने के बाद करीब 11,032.27 करोड़ कर संपत्ति जब्त की है। वहीं, 2005 से 2015 के बीच जब्त की गई संपत्ति की कीमत करीब 9 हजार करोड़ है। ये आकड़े ईडी की वेबसाइट पर उपलब्ध हैं।

- वर्तमान वित्त वर्ष के पहले तीन महीनों में 965.84 करोड़ रुपये जब्त किए गए।
- ईडी ऐसी फर्जी कंपनियों पर कार्रवाई तेज कर रही है, जिन्होंने विदेशों में करोड़ों रुपये ट्रांसफर किए हैं।
- अप्रैल में ईडी ने चेन्नै के एक 36 साल के व्यक्ति को गिरफ्तार किया था, जिसने अपनी 6 फर्जी कंपनियों के जरिए 78 करोड़ रुपये विदेशों में भेजे थे।
- 12 जुलाई तक करीब डेढ़ लाख फर्जी कंपनियां रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज द्वारा बंद कर दी गई हैं।
- इनमें से करीब 32 पर्सेंट कंपनियां दक्षिणी राज्यों की हैं।