Blog single photo

नकदी की कमी से जूझ रहा है ग्रामीण बाजार, सात साल के निचले स्तर पर पहुंचा विकास दर

देश से आर्थिक सुस्ती से जूझ रहे है। इस बीच देश की सबसे बड़ी कंज्यूमर कंपनी हिंदुस्तान यूनिलिवर लिमिटेड कैस की कमी ले जूझ रहा है। 7 साल में पहली बार ग्रामीण बाजार में कंपनी के विस्तार में कमी दर्ज की गई है।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (18 अक्टूबर): देश से आर्थिक सुस्ती से जूझ रहे है। इस बीच देश की सबसे बड़ी कंज्यूमर कंपनी हिंदुस्तान यूनिलिवर लिमिटेड कैस की कमी ले जूझ रहा है। 7 साल में पहली बार ग्रामीण बाजार में  कंपनी के विस्तार में कमी दर्ज की गई है। खबर की माने तो वित्तिय बाजार में लिक्विडी क्रंच के बीच एचयूएल और अन्य कंज्यूमर गुड्स कंपनियों ने कुछ मौकों पर क्रेडिट सपोर्ट भी उपलब्ध कराया है। 

 इसके बावजद ग्रामीण बाजार में कंपनी के विस्तार में कमी आई है। मुख्य वित्तीय अधिकारी श्रीनिवास पाठक ने बताया कि कंपनी इसे दूर करने के लिए सीधे हस्तक्षेप कर रही है। उन्होंने कहा कि हम इसके लिए अपने बैंकिंग और वित्तीय साझेदारों से बात कर रहे हैं। कुछ मामलों में हम क्रेडिट के जरिए वितरकों को मदद की है।

नीलसन के अनुसार पिछले साल 7 साल में ग्रामीण बाजार की ग्रोथ सबसे कम 5 फीसदी रही है। पिछले सात साल में पहली बार शहरी ग्रोथ ने रुरल ग्रोथ को पीछे छोड़ दिया है। रिपोर्ट के मुताबित इंडियन फास्टमूविंग कंज्यूमर गुड्स का बाजार सितंबर तिमाही में 7.3 फीसदी की रफ्तार से बढ़ा। वहीं पिछले साल समान अवधि में यह बढ़ोतरी 16.2 फीसदी थी। पिछले तीन माह में ग्रामीण इलाकों में खपत में कमी आई है। 

Tags :

NEXT STORY
Top