पार्टियों को 2 हजार से ज्यादा चंदा देने वाला का नाम हो उजागर: चुनाव आयोग

नई दिल्ली (18 दिसंबर): काले धन पर रोक और राजनीतिक दलों पर शिकंजा कंसने के लिए चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार से चंदे में मिलने वाली रकम के कानून में संशोधन की बात कही है। चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार को लिखे सुझाव में कहा है कि 2000 रुपये तक से ज्यादा चंदे की रकम देने वाले का नाम सार्वजनिक किया जाना चाहिए।

चुनाव आयोग चाहता है कि राजनीतिक दल 2,000 रुपये से ज्यादा के चंदों का स्रोत बताएं। इससे ज्यादा की रकम देने वाले का नाम उजागर किया जाना चाहिए। अभी तक जनप्रतिनिधित्व कानून, 1951 के सेक्शन 29 सी के तहत पार्टियों के लिए 20 हजार रुपये से ज्यादा के चंदों का स्रोत बताना जरूरी है।

आयोग ने साथ ही यह भी प्रस्ताव दिया है कि सिर्फ उन्हीं राजनीतिक दलों को इनकम टैक्स में छूट मिलनी चाहिए जो चुनाव लड़ती हों और लोकसभा या विधानसभा चुनावों में जीती हों। दरअसल इनकम टैक्स ऐक्ट, 1961 के सेक्शन 13ए के मुताबिक राजनीतिक दलों को आयकर छूट मिली हुई है।