Blog single photo

मंत्रीपद को लेकर कांग्रेस-JDS में मतभेद खत्म, 6 जून को कैबिनेट विस्तार

कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच मंत्रीपदों को लेकर सहमति बन गई है। कांग्रेस के कोटे से 22 विधायक मंत्री बनेंगे। गृह, सिंचाई, स्वास्थ्य, कृषि और महिला विकास की जिम्मेदारी कांग्रेस पार्टी को दी गई है।

नई दिल्ली (1 जून): कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच मंत्रीपदों को लेकर सहमति बन गई है। कांग्रेस के कोटे से 22 विधायक मंत्री बनेंगे। गृह, सिंचाई, स्वास्थ्य, कृषि और महिला विकास की जिम्मेदारी कांग्रेस पार्टी को दी गई है। जबकि जेडीएस के कोटे से 12 मंत्री बनेंगे जिनमें वित्त, आबकारी, पीडब्ल्यूडी, शिक्षा, पर्यटन और ट्रांसपोर्ट शामिल हैंकांग्रेस के वरिष्ठ नेता के सी वेणुगोपाल ने कहा कि कैबिनेट विस्तार और मंत्री पदों को लेकर जेडीएस से किसी तरह का ऐतराज नहीं है। बातचीत के बाद ये तय हो चुका है कि जेडीएस वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी संभालेगी।

कर्नाटक के डिप्टी सीएम जी परमेश्वरा ने कहा कि सभी मंत्री 6 जून को अपने पद की शपथ लेंगे। परमेश्वरा ने कहा कि दोनों दल किसी समझौते के तहत एक साथ नहीं आए हैं, बल्कि दोनों दलों के विचार मिलते जुलते हैं। राज्य में सांप्रदायिक शक्तियों को परास्त करने के लिए एक साथ आना जरूरी था।

वेणुगोपाल ने बताया कि राहुल गांधी के निर्देश पर वित्त मंत्रालय जेडीएस को दिया गया है। राहुल ने इस बात पर जोर दिया था कि गठबंधन की यह सरकार इस वक्त देश की जरूरत है। दोनों दलों ने सरकार चलाने के लिए गठबंधन समन्वय समिति और निगरानी समिति बनाने की घोषणा की है। यह समिति महीने में एक बार बैठक कर कामकाज की समीक्षा करेगी।

Tags :

NEXT STORY
Top