छत्तीसगढ़: प्रख्यात समाज सेवी दंपति की हत्या के आरोप में बेटा संदीप गिरफ्तार

रायपुर (2 जनवरी): दुर्ग के प्रसिद्ध समाजसेवी रावलमल जैन और उनकी पत्नी सुरजी देवी के हत्यारे को छत्तीसगढ़ पुलिस ने 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के मुताबिक, दरअसल दोनों पति-पत्नी की हत्या करने वाला कोई और नहीं बल्कि उनका बेटा ही है।

आपको बता दें कि सोमवार की सुबह मंदिर के ट्रष्टी समाजसेवी रावलमल जैन व उनकी पत्नी सुरजीदेवी की हत्या कर दी गई थी। हत्या के बाद से इलाके में दिनभर सनसनी फैली रही। शुरुआती दौर में ही पुलिस को शक हो गया था कि हत्या किसी घरवाले ने ही की है, क्योंकि सूत्रों के मुताबिक रावलमल के दुर्ग के गंजपारा स्थित जिस मकान में हत्या की गई, वहां दो सीसीटीवी कैमरे लगे हैं। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज जांच की तो रात 12 बजे के बाद से घटना होने तक न तो कोई घर में प्रवेश किया और न ही बाहर आया।

सीसीटीवी फुटेज ने पुलिस के शक को काफी हद तक पुख्ता कर दिया था। पुलिस को मृतक के के घर के पिछले हिस्से से एक रिवॉल्वर भी मिली। पुलिस ने जब रावलमल के बेटे से कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल लिया।

संदीप के मुताबिक उसने तड़के 5.0 बजे अपने पिता को उस वक्त गोली मारी, जब वह मुंह-हाथ धोकर बाथरूम से बाहर निकले। पहली गोली उनके गर्दन पर लगी और दूसरी माथे पर। गोली की आवाज सुनकर सुरजी देवी अपने बिस्तर से उठ गईं। उन्होंने अपने पति को फर्श पर गिरा देख चीख पुकार मचाई। इसे देखकर संदीप ने अपनी मां पर भी गोली चला दी। संदीप ने उनके सिर पर दो गोलियां और दागीं, फिर अपने कमरे में चला गया।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद पुलिस ने दोनों का शव उनके परिजनों को सौंप दिया। देर शाम रावलमल और उनकी पत्नी का अंतिम संस्कार कर दिया गया। समाजसेवी रावलमल की अंत्येष्टि में मुख्यमंत्री रमन सिंह सहित बड़ी संख्या में स्थानीय लोग शामिल हुए। संदीप को माता-पिता की हत्या के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया है। रावलमल जैन और उनकी पत्नी सुरजी देवी की चिता को आरोपी संदीप के नाबालिग बेटे ने मुखाग्नि दी।