दुबई में हाउस वाइफ को विदेशी से इश्क करना पडा महंगा, हो सकती है ये सजा

नई दिल्ली (3 फरवरी): दुबई में एक अरेबियन हाउस वाइफ को कोमोरोज़ आइसलैण्ड के एक बेरोजगार शख्स से इश्क करना मंहगा पड़ गया। बच्चों को स्कूल छोड़ते वक्तअरेबियन हाउस वाइफ और कोमरोज़ के बेरोजगार युवक की आंखें चार हुईं। धीरे-धीरे नज़दीकियां इतनी बढ़ गयीं कि महिला उस शख्स को अपने निजी पलों को फोटो शेयर करने लगी। उसमें एक फोटो ऐसा भी था जो बेहद निजी क्षणों का था। इसके बाद दोनों ने कई बार शारीरिक संबंध भी बनाये।

कुछ दिनों कोमरोज़ का बेरोजगार अरेबियन हाउस वाइफ को ब्लैकमेल करने लगा। उसकी हरकतों से तंग आकर महिला ने पुलिस में शिकायत की। दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की गयी। मामला कोर्ट में पहुंचा तो कोर्ट ने बेरोज़गार शख्स को ब्लैकमेल करने के आरोप से बरी कर दिया। कोर्ट ने कहा कि महिला ने अपने निजी क्षणों का फोटो भेजकर बेरोजगार शख्स को उकसाया है। इसलिए सिर्फ महिला कसूरवार है।

कोर्ट ने आगे कहा कि बेरोजगार शख्स भी शादी से पहले शारीरिक संबंध बनाने का दोषी है। दुबई कोर्ट ने इस मामले में एक महीने बाद फैसला देने का फरमान लिखा है। तब तक दोनों न्यायिक हिरासत में रहेंगे। जानकारों का कहना कि सऊदी अरब के कानूनों के मुताबिक महिला का कसूर ज्यादा बड़ा है। उस पर एक्सट्रा मेरिटल रिलेशंस का आरोप बनता है। सऊदी अरब में इसे सीनाजनी का जुर्म कहा जाता है।  हाउस वाइफ को कड़ी सजा सुनायी जा सकती है।