DU की किताब में भगत सिंह- 'क्रांतिकारी आतंकवादी', लोकसभा में बहस की मांग

नई दिल्ली (27 अप्रैल): दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाई जाने वाली एक किताब में शहीद क्रांतिकारी भगत सिंह को कथित तौर पर 'क्रांतिकारी आतंकवादी' बताया गया है। यह किताब मृदुला मुखर्जी और विपिन चंद्रा ने लिखी है। इस मुद्दे को लेकर लोकसभा में बुधवार को सरकार और विपक्ष के बीच काफी तकरार हुई।

रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद अनुराग ठाकुर ने यह मुद्दा सदन के शून्यकाल के दौरान उठाया। अनुराग ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने अपने शासनकाल के दौरान देश की शिक्षा को खत्म करने और इतिहास को तोड़ने मरोड़ने का प्रयास किया। जिसके लिए देश उसे कभी माफ नहीं करेगा। 

इस बात पर कांग्रेस सदस्यों ने कड़ा विरोध जताया। जिसके बीच अनुराग ठाकुर ने कहा, "इस किताब के लेखकों में से एक मृदुला मुखर्जी के खिलाफ वित्तीय अनियमितताओं की जांच चल रही है।" उन्होंने कहा कि मृदुला और विपिन चंद्रा की पुस्तक 'इंडियाज स्ट्रगल फॉर इंडिपेंडेंस' में भगत सिंह को 'क्रांतिकारी आतंकवादी' बताया जाना बेहद आपत्तिजनक है। इससे भी आपत्तिजनक यह बात है कि कथित दो विचारधाराओं के नाम पर ऐसी पुस्तक दिल्ली विश्वविद्यालय में पढ़ाई जा रही है।

ठाकुर की इन टिप्पणियों पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया की। हंगामे के बीच लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की बैठक भोजन अवकाश के लिए स्थगित कर दी।