कुछ ही घण्टे में ATM हुए कंगाल, 2000 का नोट बना 'जी का जंजाल'

नई दिल्ली (12 नवंबर): एटीएम सेंटर्स और बैंकों के आगे लंबी लाइनों में दिन भर लगे रहने के बाद भी कई लोगों को पैसे की कमी के कारण खाली लौटकर आना पड़ रहा है। हालांकि सरकार ने 500 और 1000 के पुराने नोटों का इस्तेमाल पब्लिक यूटिलिटी बिल्स के लिए करने की सीमा 72 घंटे तक के लिए बढ़ा दी है। यानी पेट्रोल पंप, अस्पताल, ट्रेन बुकिंग टिकट बुकिंग, एयर और बस टिटक बुकिंग में इन नोटों का इस्तेमाल आप 72 घंटे और कर सकते हैं।

8 नवंबर की रात 12 बजे के बाद से 500 और हजार के नोटों को 'कागज का टुकड़ा' करार दिए जाने के बाद से लोगों को बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ा रहा है। खास तौर पर उन लोगों को जिनके घर इस बीच शादी या कोई बड़ा इवेंट होने वाला है।दो दिन बंद होने के बाद जब तीसरे दिन एटीएम खुले तो कैश कुछ घंटों में ही खत्म हो गया। बैंक को भी नोट बदलने, लोगों के गुस्से को झेलने और अनगिनत सवालों की वजह से खासी दिक्कतें उठानी पड़ीं। जिन लोगों को 2000 के नोट मिले, वे खुश तो थे लेकिन उन्हें समझ नहीं आ रहा था कि इसका इस्तेमाल किया कैसे जाए क्योंकि हर जगह छुट्टे की समस्या बनी हुई थी।