आम आदमी को बड़ी राहत, 44 फीसदी तक घटे 50 दावाओं के दाम

नई दिल्ली (23 दिसंबर): आम आदमी को बड़ी राहत मिली है। नेशनल फॉर्मास्युटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी यानी NPPA ने 50 जरूरी दवाइयों के दाम 44 फीसदी तक कम कर दिए हैं। वहीं 29 दवाओं को प्राइस कंट्रोल के दायरे में लाया गया है। जिन दवाओं के दाम कम हुए उनमें HIV, बैक्टेरियल इनफेक्शन, एंजाइटी और डायबिटीज भी शामिल हैं। NPPA इस फाइनेंशियल ईयर में अब तक 400से ज्यादा दवाओं के दाम कम चुका है।

NPPA ने नोटिफिकेशन में कहा है कि ड्रग्स प्राइस कंट्रोल अमेंडमेंट ऑर्डर 2016 के तहत 50 जरूरी दवाओं के दाम घटाए गए हैं और 29 दवाओं को प्राइस कंट्रोल के के दायरे में लाया गया है। NPPA के चेयरमैन भूपेंद्र सिंह का कहना है कि दवाओं के दाम 5% से 44% तक कम किए गए हैं। NPPA ड्रग्स प्राइस कंट्रोल)ऑर्डर 2013 के तहत शिड्यूल-1 के तहत आने वाली जरूरी दवाओं की कीमत तय करता है।

साथ ही NPPA का कहना है कि मैन्युफैक्चरर्स दवाओं की तय कीमत से ज्यादा नहीं ले सकते हैं। अगर कंपनियां सीलिंग प्राइस और नियमों का पालन नहीं करती हैं तो उन्हें वसूली गई एक्स्ट्रा कीमत ब्याज समेत जमा करानी पड़ेगी। कंपनियों को इन दवाओं की कीमत में साल में 10 फीसदी तक की ही बढ़ोतरी करने की इजाजत होगी।

मौजूदा वित्तिय वर्ष में कुल 400 से ज्यादा दवाओं की कीमतें कम की गई हैं। इसके पहले NPPA ने 10 सितंबर को जरूरी दवाओं की कीमत के लिए मैक्सिमम लिमिटकरते हुए उनके दाम घटाए थे।