अंबानी का ड्राइवर बनना चाहते हैं तो परीक्षा के लिए रहे तैयार, लाखों में मिलेगी सैलरी

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 अप्रैल) : एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी दुनिया भर के अरबपतियों में 13 वां स्थान आता है। सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि मुकेश अंबानी के यहां ड्राइवर बनने के लिए परीक्षा देनी होती है और बाद में उसे लाखों रुपये की सैलरी मिलती है।

 मुकेश अंबानी के ड्राइवर की सैलरी तो बहुत ज्यादा है लेकिन वहां तक पहुंचना हर किसी के बस की बात नहीं है। सबसे अमीर एशियाई के ड्राइवर का चयन विधिवत तरीके से किया जाता है। अंबानी ड्राइवर का चयन करने के लिए प्राइवेट कंपनियों को कांट्रैक्ट देते हैं। इन कंपनियों को ड्राइवर के चयन की सारी जिम्मेदारी दी जाती है।

 सबसे पहले इस बात की पूरी जांच की जाती है कि कहीं चयनित ड्राइवर का कोई क्रिमिनल बैकग्राउंड तो नहीं है। यह कंपनियां ड्राइवर को ट्रेनिंग देती हैं, जिसके बाद ड्राइवर को कईं तरह की कठिन परीक्षाओं का सामना करना होता है। इस पूरी प्रक्रिया के बाद जाकर किसी ड्राइवर को नियुक्त किया जाता है।

 अब आप ये सोच रहे होंगे कि इतनी कठिन परीक्षाओं का सामना करने के बाद जो ड्राइवर नियुक्त किया जाता है, उसकी सैलरी कितनी होगी। अंबानी के ड्राइवर की सैलरी हजारों में नहीं बल्कि लाखों में है। मुकेश अंबानी के ड्राइवर को प्रति माह 2 लाख रुपये दिए जाते हैं। सालाना हिसाब से देखें तो मुकेश अंबानी के ड्राइवर को एक साल में 24 लाख रुपये मिलते हैं। 

उल्लेखनीय है कि एक अनुमान के मुताबिक अंबानी ने अपनी बेटी ईशा की शादी में करीब 720 करोड़ रुपये खर्च किए थे। इतना ही नहीं, अंबानी का घर एंटीलिया दुनिया के सबसे महंगे घरों में से एक है। इसलिए ड्राइवर को दो लाख रुपये प्रति माह देना अंबानी के लिए कोई बड़ी बात नहीं है। 

 आपको बता दें कि टेलीकॉम इंडस्ट्री में तहलका मचाने के बाद मुकेश अंबानी अब रियल एस्टेट सेक्टर में प्रवेश करने जा रहे हैं। अंबानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड मुंबई के निकट एक विश्वस्तरीय मेगासिटी तैयार करने का ब्लूप्रिंट बना रही है। इस प्रोजेक्ट का हर हिस्सा अपने आप में एक प्रोजेक्ट होगा। 

रिलायंस ना सिर्फ इस प्रोजेक्ट को डेवलप करेगा, बल्कि इस शहर के प्रशासन पर पूरी तरह रिलायंस का कंट्रोल होगा। ऐसा माना जा रहा है कि इस शहर के अस्तित्व में आने के बाद मुंबई की तस्वीर पूरी तरह बदल जाएगी।
देश में सबसे ज्यादा ग्राहक संख्या वाली अमेजन को टक्कर देने के लिए मुकेश अंबानी ने विशेष रणनीति बनाई है। मुकेश अंबानी ने पिछले दो वर्षों में छोटी-छोटी करीब 26 कंपनियों में हिस्सेदारी खरीद अपनी रणनीति पर अमल करना शुरू कर दिया है। अंबानी दो वर्षों में 17.41 हजार करोड़ का निवेश भी कर चुके हैं।