सऊदी अरब- पानी मंहगा और पेट्रोल सस्ता !

नई दिल्ली (31 जनवरी): दुनिया के अजीबो-गरीब देशों में एक देश का नाम है सऊदी अरब। इस देश में लगभग हर चीज़ दूसरे देशों से मंगाई जाती हैं, इसके बावजूद यहां मंहगाई नहीं है। यहां कानून की आड़ में मानवाधिकारों का खुलकर हनन होता है फिर भी यूएन इस देश के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर सकता। यहां बलात्कार होने पर पीड़िता को साबित करना पड़ता है कि वो दोषी नहीं बल्कि आरोपी दोषी है। यहां महिलाएं अकेली शॉपिंग या घूमने-फिरने नहीं जा सकतीं। महिलाएं ड्राइव भी नहीं कर सकतीं। मक्का मदीना शहर में गैर मुस्लिमों के घुसने पर पाबंदी है। और अगर कोई घुस गया तो उसकी सजा मौत है। चलिए, सऊदी अरब की और तमाम अनसुनी खूबियों से आपको अवगत करवाते हैं:

- यहाँ पानी महंगा और पेट्रोल सस्ता है !

- यहाँ की एक छोटी कार का नाम ग्रांड मरकरी जिसा एवरेज 4 किमी प्रति लीटर है !

- यहाँ के रास्तों की जानकारी मर्दों से ज्यादा औरतें रखती हैं।

- यहाँ पर पूरी ख़रीदारी औरते ही करती हैं मगर पर्दे में और किसी मर्द सदस्य के साथ ही खरीददारी कर सकती हैं।

- यहाँ की आबादी 4करोड़ हैं और कारें 9 करोड़ से भी अधिक हैं !

- मक्का शहर का कूड़ा- कचरा शहर से 70 किलोमीटर दूर पहाडियों में दबाया जाता है !

- यहाँ का आव-ए-ज़मज़म पूरे साल और पूरी दुनिया भर मे जाता है। यह पानी  और यहाँ भी पूरे मक्का और पूरे सऊदी अरब में इस्तेमाल होता है। इस पानी में आज तक कोई कमी या खराबी नहीं आई !

- यहाँ 2200 तरह के लजीज व्यंजन बनाये और खाये जातें हैं !

- केवल मक्का में एक दिन मे 3लाख मुर्गे हलाल किये जाते हैं। दावत उड़ाई जाती है !

- सऊदी अरब में मे तक़रीबन 30 लाख भारतीय 18 लाख पाकिस्तानी 16 लाख बंगलादेशी 4 लाख मिस्री 1 लाख यमनी और 3 लाख अन्य देशों के लोग काम करते हैं

- यहाँ खजूर के सिवाय कोई फ़सल नहीं उगती फ़िर भी दुनिया की हर चीज़ फल सब्जी वगेरह बेमौसम यहाँ पर बिकती हैं !

- मक्का में 200 वैरायटी की खजूर बिकती हैं। एक ऐसी खजूर भी है जिसमें गुठली नहीं पाई जाती !

- पूरे सउदी अरब में कोई नदी या तालाब नही हैं फ़िर भी यहाँ पानी की कोई कमी नही हैं !

- मक्का मे  बिजली लाइन ऊपर नहीं सब ज़मीन के अंदर  गुज़रती है !

- मक्का शहर पहाड़ी इलाका है फ़िर भी सड़के 4 लैन से लेकर 12 लैन तक हैं। पहाड़ों के अंदर की सुरंगे  भी 6 और 8 लैन की हैं !

- दुनिया का सर्वश्रेष्ठ कपड़ा यहाँ बिकता है जबकि बनता नहीं है !

- अपने बेरोजगार को सऊदी सरकार 3000रियाल प्रतिमाह देती है

- यहाँ के लोग हर साल घर का सामान बदलते हैं और बिल्कुल नया चमकता हुआ सामान कूड़ेदान में डाल देते हैं !

- यहाँ हरायाली नहीं है पेड़ पौधे न के बराबर हैं पहाड़ सूखे और काले हैं मगर साँस लेने में कोई तक़लीफ़ ही नही यहाँ यह वैज्ञानिक रिसर्च फ़ेल है !

- यहाँ हर चीज़ बाहर से मंगाई जाती है फ़िर भी मेंहगाई नहीं है !