'मुंत्रा' से चीन-पाकिस्तान का बचना मुश्किल, मचाएगा भयंकर तबाही

नई दिल्ली (29 जुलाई): भारतीय सेना को नया हथियार मिला है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन यानी DRDO ने मानव रहित टैंक बनाया है जो रिमोट के जरिए संचालित होता। यानी इस टैंक पर इंसान की तैनाती की जरूरत नहीं है। ये टैंक निगरानी करने, सुरंग का पता लगाने और परमाणु व जैविक खतरों का सर्वेक्षण करने में सक्षम है। इस टैंक को MUNTRA नाम दिया गया है और ये देश का पहला मानवरहित टैंक है।

इस सीरीज में DRDO ने तीन तरह का टैंक विकसित कर रहा है। मुंत्रा-S का निर्माण जमीन पर मानवरहित निगरानी मिशन, मुंत्रा- S सुरंग का पता लगाने और मुंत्रा-N ऐसे इलाकों का पता लगाने के लिए है, जहां परमाणु या जैविक हथियारों का जोखिम हो।

DRDO ने इन टैंकों का परीक्षण राजस्थान के रेगिस्तानी इलाकों के तेज तापमान में किया गया है। परीक्षण के दौरान सेना ने इस टैंक को सफलापूर्वक संचालित किया। इसमें निगरानी रडार, कैमरा, लेजर रेंज का पता लगाने वाली डिवाइस है। इससे जमीन पर 15 किलोमीटर की दूरी तक भारी वाहनों का पता लगाया जा सकता है।

बताया जा रहा है कि अर्धसैनिक बल इस टैंक को नक्सल प्रभावित इलाकों में इस्तेमाल करना चाहती है। लिहाजा DRDO इसके लिए इस टैंक में कुछ बदलाव करने की भी योजना बना रही है।