'मुस्लिम आतंकवाद खत्म करें या फिर दोषी ठहराए जाते रहेंगे'

नई दिल्ली(18 अगस्त): रिपब्लिकन प्रेजिडेंट पद के उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप ने आतंकवाद को खत्म करने में मुस्लिमों को आगे आने के लिए कहा है। डॉनल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर मुस्लिम समुदाय आतंकवाद खत्म करने में मदद के लिए आगे नहीं आता है तो फिर उसे ही आतंकवाद के लिए जिम्मेदार ठहराया जाता रहेगा।

- 70 साल के ट्रंप इससे पहले यूएस में मुस्लिमों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने की बात कह चुके हैं। उन्होंने कहा कि मुस्लिम समुदाय अपने समुदाय की हर गतिविधि के प्रति सचेत रहे।

- ट्रंप ने कहा, देखिए, हमें थोड़ा सख्त होना पड़ेगा, थोड़ा स्मार्ट और चौकन्ना। वास्तव में मुस्लिमों को इसमें हमारी मदद करनी होगी क्योंकि उन्हें पता होता है कि उनके समुदाय में आखिर क्या चल रहा है, हम बाहरी नहीं देख पाते लेकिन वह देखते हैं इसलिए उन्हें हमारी मदद करनी होगी।

- ट्रंप ने फिर चेतावनी भरे अंदाज में कहा कि अगर मुस्लिम समुदाय हमारी मदद नहीं करने जा रहा है तो फिर आरोपों के लिए तैयार रहे।

- एक अन्य सवाल के जवाब में ट्रंप ने कहा, वह ओरलैंडो हमले के शूटर के पिता सिद्धीकी मतीन को बाहर फेंक देंगे। उन्होंने कहा, 'मैं उसे बाहर फेंक दूंगा, अगर आप उसकी तरफ देखेंगे, आपको पता है कि फिर मैं उसकी तरफ देखूंगा। आप देखेंगे तो पाएंगे कि वह किस तरह मुस्कुरा रहा है।'

- रिपब्लिकन नॉमिनी ट्रंप ने इस्लामिक स्टेट के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि आईएस की सोशल मीडिया पर यूएस से मजबूत स्थिति है।

- ट्रंप ने कहा, 'मेरे कहने का मतलब है कि सोशल मीडिया पर उनकी स्थिति हमसे ज्यादा मजबूत है। अगर आप देखते हैं कि आईएसआईएस सोशल मीडिया पर क्या कर रहा है तो इस बात को समझ जाएंगे, वे इंटरनेट पर लोगों की भर्तियां कर रहे हैं। मैंने पहले भी कहा है कि हमें यह सब खत्म करना होगा। हम उन्हें बहुत धीरे-धीरे बाहर फेंक देंगे और जरूरत पड़ी तो निर्ममतापूर्वक भी।'

- ट्रंप ने अपनी प्रतिद्वंद्वी डेमोक्रेटिक प्रेजिडेंट उम्मीदवार हिलरी क्लिंटन के बारे में कहा कि उन्हें मीडिया द्वारा सुरक्षा शील्ड प्रदान की जा रही है।

- वह बहुत ही सुरक्षित हैं। मीडिया उनके प्रति बहुत ही सुरक्षात्मक रवैया अपना रही है। वह टेलेप्रॉम्पटर पर स्पीच देंगी और फिर गायब हो जाएंगी। वह घर सोने के लिए जाती हैं। मुझे लगता है कि वह केवल सोती हैं।