ट्रंप बोले- दूसरे देशों के नागरिकों को गहन जांच के बाद मिले वीजा

वाशिंगटन (16 अगस्त): रिपब्लिकन पार्टी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डॉनल्ड ट्रंप ने अमेरिका में चरमपंथी विचारधारा वाले लोगों की एंट्री रोकने के लिए नए प्रवासियों की गहन जांच किए जाने का प्रस्ताव किया है। ट्रंप ने कहा कि हमें उन्हीं लोगों को देश में प्रवेश की अनुमति देनी चाहिए जो हमारे मूल्यों को साझा करते हैं और हमारे लोगों का सम्मान करते हैं।

ट्रंप ने कहा कि आज हम जिन चुनौतियां का सामना कर रहे हैं, उसके लिए एक नया परीक्षण विकसित करने का समय आ गया है। उन्होंने इसे गहन जांच का नाम दिया। उन्होंने कहा कि हमारे देश में पहले से ही काफी समस्याएं हैं और हमें और समस्याओं की जरूरत नहीं है। ये ऐसी चुनौतियां हैं जो पहले कभी नहीं थीं।

ट्रंप ने कहा... - उन लोगों को छांट कर निकालने की भी जरूरत है जिनका मानना है कि अमेरिकी कानून के स्थान पर शरिया कानून लागू होना चाहिए। - जो लोग हमारे संविधान में भरोसा नहीं करते या कट्टरपंथ और नफरत का समर्थन करते हैं, उन्हें हमारे देश में प्रवास के लिए अनुमति नहीं दी जाएगी। - सिर्फ उन्हें ही वीजा जारी किया जाना चाहिए जिनके हमारे देश में घुलने-मिलने और सहिष्णु अमेरिकी समाज को अंगीकार करने की उम्मीद है। - विश्व के उन कुछ सबसे खतरनाक और संवेदनशील क्षेत्रों से प्रवास को अस्थायी रूप से स्थगित करना होगा, जहां आतंकवाद को बढ़ावा देने का इतिहास रहा है। - हमें उन क्षेत्रों से तब तक वीजा पर विचार रोकना होगा, जब तक कि वे नई प्रक्रियाओं के अनुसार सुरक्षित नहीं हो जाएं। - मौजूदा प्रवास प्रवाह का दायरा काफी बड़ा है और उसकी उचित जांच नहीं की जा सकती।