लोगों को मारने और बच्चों पर बम बरसाने वाले तालिबान से नहीं करेंगे बात: ट्रंप

 

नई दिल्ली(30 जनवरी): अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तालिबान से बात करने की संभावनाओं खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि पूरे अफगानिस्तान में लोग मारे जा रहे हैं। तालिबान बच्चों, परिवारों पर बमबारी कर रहा है। ऐसे में उससे बात करने का सवाल ही पैदा नहीं होता। बता दें सोमवार को काबुल में आतंकी हमले में 15 सैनिक मारे गए थे। 

- आईएसआईएस के करीब पांच आतंकियों ने मिलिट्री अकादमी को निशाना बनाया। दो फिदायीन आतंकियों ने अकादमी में घुसने की कोशिश करते हुए खुद को उड़ा लिया। वहीं दो अन्य आतंकियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी थी।

-  ट्रम्प ने काबुल में हुए फिदायीन हमले की निंदा की और कहा कि तालिबान को खत्म कर दिया जाएगा।

- उन्होंने कहा, "हम तालिबान पर मिलिट्री जीत को देख रहे हैं। मैं उनसे किसी भी तरह की बातचीत के बारे में नहीं सोचता। वहां एक अलग तरह की लड़ाई चल रही है।'' - "अफगानिस्तान में हर जगह मासूम लोग मारे जा रहे हैं। बच्चों पर बम गिराए जा रहे हैं।''

- ट्रम्प ने पिछले साल अफगानिस्तान में अमेरिकी सेनाओं की संख्या बढ़ाने का आदेश दिया था। हालांकि इसी महीने यूएन में अमेरिकी एम्बेसडर निक्की हेली ने कहा था कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन आतंकी गुटों से बात करने के काफी है।