रूस पर प्रतिबंध वाले विधेयक पर डोनाल्ड ट्रंप ने किए हस्ताक्षर

नई दिल्ली ( 3 अगस्त ):  अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने रूस के खिलाफ प्रतिबंध वाले बिल पर हस्ताक्षर कर दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रपति ने बंद कमरे में और कैमरों से दूर इस बिल पर हस्ताक्षर किए। इस तरह से उन्होंने अपने वीटो के खिलाफ कांग्रेस के किसी भी संभावित कदम को टालने का काम किया। पिछले साल के अमेरिकी चुनाव में कथित दखल और यूक्रेन के क्रीमिया प्रायद्वीप को अपने साथ मिला लेने को लेकर रूस के खिलाफ अतिरिक्त और पहले से सख्त प्रतिबंध लगाए गए हैं।

गौरतलब है कि रूस का अपने देश में अमेरिकी राजनयिकों की संख्या में कटौती के आदेश के बाद अमेरिका अपने विकल्पों की समीक्षा कर रहा था। इन सबके बीच राष्ट्रपति ट्रंप की रूस पर कड़े प्रतिबंध लगाने वाले विधेयक पर हस्ताक्षर करने की बात तय मानी जा रही थी।

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पिछले दिनों कहा था कि अमेरिका के 755 राजनयिकों को रूस से हटना होगा और चेतावनी दी कि हो सकता है कि वाशिंगटन के साथ लंबे समय तक संबंधों में सुधार नहीं हो।

अमेरिकी सीनेट ने पिछले गुरुवार को एक विधेयक को मंजूरी दी जिसमें 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में रूस के कथित तौर पर संलिप्त रहने और 2014 में क्रीमिया पर कब्जे के लिए प्रतिबंध कड़े करने की बात है। प्रतिबंध वाले विधेयक में ईरान और उत्तर कोरिया भी निशाने पर हैं।