US प्रेसिडेंशियल इलेक्शन की पहली डिबेटः ट्रम्प-हिलेरी ने एक दूसरे पर साधा जमकर निशाना

नई दिल्ली(27 सितंबर): अमेरिका के लॉन्ग आइलैंड की हॉफ्स्ट्रा यूनिवर्सिटी में पहली बार हिलेरी क्लिंटन और डोनाल्ड ट्रम्प के बीच टीवी डिबेट हुई। यह 1980 में जिमी कार्टर और रोनाल्ड रीगन के बीच हुई डिबेट के बाद सबसे ज्यादा चर्चित बहस है। 

-डॉनल्ड ट्रंप ने हिलरी से जुड़े ईमेल प्रकरण को उठाया। वहीं, हिलरी ने भी ट्रंप की आर्थिक नीतियों की जमकर आलोचना की और उनकी ओर से टैक्स रिटर्न फाइल न करने के मुद्दे को भी उठाया। दोनों ने देश के बाहर से हो रहे साइबर हमले, आतंकी संगठन आईएसआईएस, अप्रवासी निवासियों, नस्लीय भेदभाव, हथियारों से जुड़े कानून, मिडल ईस्ट के देशों से रिश्तों, इराक युद्ध आदि मामले पर अपनी राय रखी। साथ ही एक दूसरे पर निशाना साधने से भी नहीं चूके।

-हिलरी ने टॉस जीता और मॉडरेटर ने पहले सवाल के तौर पर उनसे पूछा कि उनकी अमेरिकी कामगारों के लिए रोजगार के नए अवसर पैदा करने के क्या प्लान हैं? वहीं, ट्रंप ने भी नौकरी पैदा करने से जुड़ी योजनाओं से डिबेट की शुरुआत की। साथ में आरोप लगाया कि मेक्सिको और दूसरे देश अमेरिका से 'नौकरियां चुरा' रहे हैं।

- यह डिबेट इसलिए भी अहमियत रखती है क्योंकि दोनों के बीच कांटे की टक्कर मानी जा रही है। आठ नवंबर को होने वाली वोटिंग से छह हफ्ते पहले हुई इस इस बहस के जरिए किसी एक के लिए निर्णायक बढ़त बनाने का रास्ता खुल सकता है। यह बहस न्यू यॉर्क के हॉफ्सट्रा यूनिवर्सिटी के डिबेट हॉल में हुई। सीएनएन ने सूत्रों के हवाले से बताया कि डिबेट के वक्त हिलरी के पति और पूर्व राष्ट्रपति बिल क्लिंटन भी स्टेज के पीछे मौजूद थे। एनबीसी न्यूज के लीस्टर होल्ट ने इस डिबेट में मॉडरेटर की भूमिका निभाई। राष्ट्रपति चुनाव को लेकर 90 मिनट चलने वाली इस बहस को 10 करोड़ अमेरिकी लोगों के देखने की उम्मीद है। गौरतलब है कि 1980 में डेमोक्रेट राष्ट्रपति जिमी कार्टर और रिपब्लिकन रोनाल्ड रीगन के बीच हुई बहस को आठ करोड़ लोगों ने देखा था।

क्या बोले ट्रंप

-मैं अपने टैक्स रिटर्न की जानकारी सार्वजनिक कर दूंगा अगर हिलरी अपने 33000 ईमेल्स जारी कर दें: ट्रंप

-ओबामा ने आठ साल में अमेरिका के कर्ज को दोगुना कर दिया: डॉनल्ड ट्रंप

-हमें हमारी नौकरियों को चोरी होने से रोकना होगा- ट्रंप

-अमेरिका की ऊर्जा नीति बर्बाद करने वाली है: डॉनल्ड ट्रंप

-हमसे नौकरियां चुराई जा रही हैं, इसे हमें रोकना होगा: ट्रंप

-हिलरी अनूठी नेता हैं। बस बातें करती हैं, कोई ऐक्शन नहीं लेतीं: ट्रंप

-समय आ गया है कि यह देश ऐसे व्यक्ति द्वारा चलाया जाए जो पैसे को समझता है। हमारे देश की समस्याएं बड़ी हैं: डॉनल्ड ट्रंप

-हमें कानून-व्यवस्था बनाने की जरूरत है। सड़कों पर गैंग घूम रहे हैं। उनमें कई गैरकानूनी रूप से रहे प्रवासी हैं। हमें और पुलिस चाहिए। बेहतर सामुदायिक संबंध चाहिए: ट्रंप

-हमारे यहां गैरकानूनी अप्रवासी हैं और उनके पास बंदूकें हैं। हमें बेहद सर्तक रहना होगा। इस वक्त हमारी पुलिस बेहद डरी हुई है: ट्रंप

-शिकागो में उन्होंने हजारों बार शूटिंग की। हम क्या कर रहे हैं, क्या हमारे यहां जंग छिड़ी है?

-मैंने आपको (हिलरी) बराक ओबामा के खिलाफ डिबेट्स की तैयारियां करते देखा है। आपने उनके साथ अपमानजनक बर्ताव किया : ट्रंप

-हमारे राजनेताओं की वजह से अफ्रीकी-अमेरिकी समुदाय के लोगों को नीचा देखना पड़ा: ट्रंप

-2200 मर्डर हुए लेकिन रोककर तलाशी लेने की वजह से यह 500 पर सिमट गए। 'रोको और तलाशी लो' की वजह से अमेरिकी सुरक्षा पर बेहद गहरा असर पड़ा: ट्रंप

-मैं अमेरिका को दोबारा से महान बनाना चाहता हूं। मैं ऐसा करने में सक्षम हूं: ट्रंप

-हम पूरी दुनिया की पुलिस नहीं बन सकते। हम दुनिया के देशों की हिफाजत नहीं कर सकते जबकि वे हमें इसकी कोई कीमत नहीं चुका रहे: ट्रंप

हिलरी ने क्या-क्या कहा

-मैंने निजी ईमेल इस्तेमाल कर गलती की और मैं इसकी जिम्मेदारी लेती हूं: हिलरी क्लिंटन

-ट्रंप की योजना अर्थव्यवस्था को फिर से गिरा देगी: हिलरी क्लिंटन

-मुझे लगता है मेरे पति ने 90 के दशक में अच्छा काम किया: हिलरी क्लिंटन

-हमें ऐसी अर्थव्यवस्था बनानी होगी जो सबके लिए काम करे, न सिर्फ उनके लिए जो शीर्ष पर हैं: हिलरी क्लिंटन

-डॉनल्ड ट्रंप के खिलाफ 1973 में नस्लीय भेदभाव के मामले में केस दर्ज होने के साथ उनका करियर शुरू हुआ। जस्टिस डिपार्टमेंट ने उनके खिलाफ दो बार केस किया। उनका नस्लीय बर्ताव का लंबा रेकॉर्ड है: हिलरी

-हमें दोबारा से भरोसा कायम करना होगा। हमें पुलिस के साथ काम करना होगा: क्लिंटन

-इस डिबेट के लिए तैयारी करने के लिए ट्रंप ने मेरी आलोचना की। लेकिन मैंने एक और चीज के लिए तैयारी की है। मैंने अमेरिकी प्रेजिडेंट बनने की तैयारी की है: हिलरी

-यह बेहद नकारात्मक है कि ट्रंप ने देश के अश्वेत समुदाय की ऐसी नकारात्मक तस्वीर पेश की है: हिलरी

-हमें उन हाथों से हथियार वापस लेने होंगे, जिनके हाथों में वे नहीं होना चाहिए: हिलरी

-मैं अपने देश की नेता बनना चाहती हूं, जिस पर देशवासी घर या विदेश, दोनों जगह भरोसा कर सकें: हिलरी