Blog single photo

हार्ले डेविडसन पर भारत के 50% टैरिफ लगाने पर बोले ट्रंप- 'हम 'बेवकूफ' नही हैं'

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर व्यापार टैरिफ को लेकर भारत पर निशाना साधा है। ट्रंप ने अमेरिकी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन की बिक्री पर भारत की ओर से 50 फीसदी टैरिफ लगाने पर कह

trump modi

Image:Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 जून): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार फिर व्यापार टैरिफ को लेकर भारत पर निशाना साधा है। ट्रंप ने अमेरिकी मोटरसाइकिल हार्ले डेविडसन की बिक्री पर भारत की ओर से 50 फीसदी टैरिफ लगाने पर कहा कि भारत हमें गुल्लक समझ रहा है। उन्होंने कहा, 'दूसरे देशों के लिए अमेरिका एक ऐसा बैंक है, जिसे हर कोई लूटना चाहता है।'अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'भारत ने पहले हार्ले डेविडसन पर 100 फीसदी टैरिफ चार्ज लगाया था। मेरी आपत्ति के बाद इसे 100 से घटाकर 50 परसेंट कर दिया गया। लेकिन, अभी भी ये काफी ज्यादा है और हमें मंजूर नहीं है।'

डोनाल्ड ट्रंप ने एक इंटरव्यू में ये बातें कही. उन्होंने कहा, 'मेरी लीडरशीप में अमेरिका एक ऐसा देश बन गया है, जिसे आप अब मूर्ख नहीं बना सकते। हम मूर्ख देश नहीं हैं। आप भारत को ही देखिए. मेरे बहुत अच्छे दोस्त प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या किया? मोटरसाइकिल पर 100 परसेंट टैक्स लगा दिया. लेकिन हमने उनके खिलाफ कोई चार्ज नहीं लगाया।' लास वेगस में रविवार को दिए इंटरव्यू में ट्रंप ने कहा, 'कुछ देश, भारत हमसे टैरिफ वसूल रहा है... क्या महान देश है, महान दोस्त, प्रधानमंत्री मोदी- हमें कई चीजों के लिए 100 परसेंट से ज्यादा टैक्स देना पड़ रहा है. क्या वो हमें गुल्लक समझते हैं?'

ट्रंप ने हार्ले डेवि‍डसन बाइक पर भारत की ओर से ज्यादा इंपोर्ट ड्यूटी लगाने का मुद्दा लगातार उठाते रहे हैं। वो भारतीय बाइक्स पर टैरिफ बढ़ाने की धमकी भी दे चुके हैं। ट्रंप ने कहा कि हम सभी देशों की बात कर हैं। ये रुकना चाहिए नहीं तो हम ऐसे देशों के साथ कारोबार रोक देंगे. ऐसा करना पड़ा तो हमारे लिए बहुत फायदा होगा।ट्रंप ने टैरिफ मुक्त जी-7 के लिए अपील की. उन्होंने कहा कि ना को टैरिफ होना चाहिए ना कोई सब्सिडी। अमेरि‍का फर्स्‍ट पॉलि‍सी पर जोर देते हुआ कहा कि उनका अंति‍म लक्ष्‍य हर तरह के व्‍यापार शुल्‍क को खत्‍म करना है। 

ट्रंप ने बताया कि पीएम मोदी ने एक फोन कॉल पर टैक्स 50 फीसदी कर दिया है. लेकिन अब भी यह ज्यादा है और इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता है। ट्रंप ने कहा कि दोनों देश इस मुद्दे को सुलझाने पर काम कर रहे हैं. एक सवाल के जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हम ऐसे बैंक बन गए हैं जिसे हर कोई लूटने पर आमादा है, और वे इसे काफी  लंबे समय से कर रहे हैं। हमारा व्यापार घाटा 800 बिलियन अमेरिकी डॉलर तक पहुंच गया है। आप बताइए ऐसे समझौते किसने किए।

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मिली जीत के बाद अमेरिका को उम्मीद है कि अपने दूसरे कार्यकाल में आर्थिक सुधारों को आगे बढ़ाने के लिए उनके पास ज्यादा स्वतंत्रता होगी। इससे एक कारोबार अनुकुल माहौल बनाने में मदद मिलेगे। व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी का यह बयान ऐसे समय आया जब शुक्रवार को मीडिया में यह खबर छाई रही कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का अगला निशाना भारत हो सकता है। इसमें भारत के खिलाफ सेक्शन-301 जांच शुरू किया जाना शामिल है। 

Tags :

NEXT STORY
Top