ISIS हर धर्म का दुश्मन, खत्म करेंगे उसे: ट्रम्प

नई दिल्ली(1 मार्च): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संसद में अपनी पहली स्पीच दी। सबसे पहले उन्होंने कहा कि मैं अपने दिल से बात कर रहा हूं। नफरत के किसी भी रूप की हम निंदा करते हैं।

ट्रंप ने और क्या कहा...

- कंसास शूटिंग और यहूदियों के सेंटर्स को निशाना बनाना गलत है। आईएसआईएस हर धर्म के लोगों का दुश्मन है। साथियों की मदद से हम उसे खत्म कर देंगे।

- ट्रम्प ने कहा कि उम्मीदें रखते हुए हम नामुमकिन सपनों को भी पूरा कर सकते हैं। आज हम अमेरिकियों के जज्बे को बदलते हुए देख रहे हैं।

- हमारे लिए सबसे अहम अमेरिकी सिटिजंस हैं। क्योंकि हम अमेरिका को फिर से महान बना सकते हैं। पहले के दशकों में हुई गलती को हम भविष्य में नहीं दोहराएंगे।

-सिटिजंस की सिक्युरिटी के लिए जस्टिस डिपार्टमेंट का एक टास्क फोर्स बनाएगा। ताकि वॉयलेंट क्राइम कम हो सकें।

-इमिग्रेशन कानून से हम तय करेंगे कि लोगों की सैलरी बढ़े। लोगों को इम्प्लॉइमेंट मिले और करोड़ों डॉलर्स की बचत हो। हमारे लोग सेफ रहें।

- दुनिया के हर देश, फिर वह हमारा दोस्त या दुश्मन, सभी को पता चल जाएगा कि अमेरिका मजबूत है, अमेरिकियों को गर्व है और अमेरिका फ्री है।

- ट्रम्प ने कहा कि आईएसएस मुस्लिम, क्रिश्चियंस और धर्मों के लोगों को मार रहा है। मुस्लिम देशों समेत अपने सहयोगियों की मदद से उसे खत्म खत्म कर देंगे।

- रेडिकल इस्लामिक टेररिज्म से देश को बचाने के लिए सख्त कदम उठाए जाएंगे।

-हम दूसरे देशों के साथ लगी अमेरिकी बॉर्डर की सुरक्षा करेंगे। सदर्न बॉर्डर पर जल्द ही एक दीवार बनाई जाएगी।

- मैंने होमलैंड सिक्युरिटी को ऑर्डर दिया है कि एक ऑफिस 'VOICE' यानी विक्टिम्स ऑफ इमिग्रेशन क्राइम एन्गेजमेंट का गठन किया जाए। देश में ड्रग्स न आने पाए, ये सुनिश्चित किया जाएगा।

- फ्रांस, बेल्जियम, जर्मनी समेत पूरी दुनिया में आतंकी हमले देख चुके हैं। जो लोग भी अमेरिका आ रहे हैं, उनसे अपील है कि इस देश और यहां के लोगों का सम्मान करें।

- अमेरिका को आतंकियों का पनाहगाह नहीं बनने दिया जाएगा।

- ट्रम्प ने एक बार फिर 'अमेरिका फर्स्ट' की बात को दोहराया। उन्होंने कहा कि बाय अमेरिकन-हायर अमेरिकन (अमेरिकी चीजें ही खरीदें, अमेरिकियों को ही नौकरी दें)।

- मैं कांग्रेस से फिर कहता हूं कि ओबामाकेयर को खत्म कर दें।

- नुकसान झेल रही कंपनियों को दोबारा से जिंदा किया जाएगा। देश के लिए लड़ चुके हीरोज की मदद करेंगे। अमेरिकियों से किए गए वादे पूरे किए जाएंगे।

- चुनाव के वक्त कई बड़ी कंपनियों जनरल मोटर्स, लॉकहीड, फोर्ड, फिएट-क्रिसलर, सॉफ्टबैंक और वॉलमार्ट ने कहा था कि वे अमेरिका में करोड़ों का इन्वेस्टमेंट करेंगे। मैं उनसे अपील करता हूं कि अमेरिका में नए जॉब लाएं।