INSIDE STORY: पीएम मोदी, हिन्दुओं और हिन्दुस्तान के मुरीद हैं #DonaldTrump

डॉ. संदीप कोहली, 

नई दिल्ली (9 नवंबर): रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के 45 वें राष्ट्रपति होंगे। उन्होंने बड़ा उलटफेर करते हुए डेमोक्रैटिक पार्टी की उम्‍मीदवार हिलेरी क्लिंटन को बड़े अंतर से मात दी है। अमेरिका में हुई इस उलटफेर का असर वैश्विक समीकरणों पर भी पड़ने वाला है। दुनिया की निगाहें ट्रम्प की आगामी आने वाली नीतियों पर टिकी है। आज उन्होंने जीत के बाद अपने पहले भाषण में दूसरे देशों के साथ 'ग्रेट' रिलेशनशिप की बात ते कही है लेकिन क्या ये रिलेशनशिप वाकई 'ग्रेट'बनेंगे यह देखने वाली बात होगी? वैसे चुनावी कैंपेन के दौरान ट्रंप इस बात का संकेत दे चुके हैं कि कौन उनका दोस्त होगा और कौन उनका शत्रु? भारत की बात करें तो इस पर ट्रंप की ट्यूनिंग बिलकुल सटीक बैठी है। ट्रंप पहले से ही हिन्दुओं और हिन्दुस्तान के मुरीद रहे हैँ। वो बेशक पीएम मोदी से मिले नहीं हैं लेकिन पीएम मोदी की प्रशंसा में कसीदे पढ़ते रहे हैं। दूसरी तरफ पीएम मोदी ने रुझान आते ही तुरंत ट्वीट कर डोनाल्ड ट्रंप को बधाई भी दी। आइए जानते हैं कि हिन्दुओं और हिन्दुस्तान के कितने करीब हैं नए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप- 

भारतीय मूल के वोटर्स को रिझाने में लगाया पूरा दम...
- वैसे में भारतीय मूल के वोटर्स का झुकाव डेमोक्रेट उम्मीदवार की ओर रहा है।
- लेकिन इस बार भारतीय मूल के वोटर्स में रिपब्लिकन की और झुकाव दिखाई दिया।
- भारतीय मूल के वोटर्स को रिझाने में डोनाल्ड ट्रंप भी पीछे नहीं रहे।
- अमेरिका में भारतीय मूल के वोटर्स संख्या 30 लाख से ज्यादा है।
- अभी तक 20 फीसदी ही रिपब्लिकन उम्मीदवारों का पक्ष में रहे हैं।
- लेकिन इस बार ट्रंप नें हिंदू संस्था RHC के कार्यक्रम में हिस्सा लेकर इसे बदला।
- RHC यानी रिपब्लिकन हिंदू कोएलिशन यूएस में हिन्दू वोटर्स की बड़ी संस्था है।
- अमेरिकन-इंडियन बिजनेसमैन शलभ कुमार ने 2015 में RHC की स्थापना की थी।
- शलभ कुमार भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिका में प्रभावशाली समर्थकों में से एक हैं।
- डेमोक्रेट समर्थक रहे शलभ कुमार इस बार डोनाल्ड ट्रम्प के सपोर्ट में खुलकर सामने आए।
- शलभ ने ट्रंप के समर्थन में उनकी पार्टी को 7 करोड़ का डोनेशन भी दिया।
- एक इंटरव्यू में शलभ ने कहा था ट्रम्प को गलत समझा जा रहा है, वे एंटी-इंडिया नहीं हैं।

इस बार ट्रंप की बहू ने मंदिर में मनाई थी दिवाली...
- ट्रम्प की बहू लारा ने हाल ही में एक मंदिर में दिवाली सेलिब्रेट की, लारा ट्रम्प के दूसरे बेटे एरिक की वाइफ हैं।
- लारा ने कहा कि अगर उनके ससुर प्रेसिडेंट बने तो भारत-अमेरिका के रिश्ते और मजबूत होंगे। 
- ट्रंप भारत और वहां के लोगों को बहुत प्यार करते हैं।
- मुझे भी हिंदू कल्चर काफी पसंद है। मैं उसका काफी सम्मान करती हूं।

ट्रंप का इंडिया कनेक्शन...
- ट्रम्प का भारत से गहरा नाता है एक कारोबारी के तौर पर उनके भारत के साथ निजी हित हैं।
- यहां उनकी कंपनी कई रियल एस्टेट प्रोजेक्ट में लगी हुई है।
- गुड़गांव और पुणे में उनकी कंपनी कई परियोजनाओं पर काम कर रही है।
- ट्रम्प टॉवर्स कुछ दिनों पहले पुणे के कल्याणी नगर में बनकर तैयार हुआ है।
- उनकी कंपनी मुंबई के पॉश इलाके में एक शानदार व्यावसायिक इमारत बना रही है।
- डोनाल्ड ट्रंप की जीत के लिए हिन्दू सेना के कार्यकर्ता दिल्ली के जंतर-मतंर पर हवन-पूजन भी कर चुके हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बड़े प्रशंसक हैं ट्रंप...
- रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनल्ड ट्रंप भी भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ कर चुके हैं।
- जब मोदी भारत के प्रधानमंत्री बने थे तो ट्रंप ने कहा था कि सालों की सुस्ती के बाद निवेशक अब भारत लौट रहे हैं।
- ट्रंप ने कहा था, 'मोदी से मेरी मुलाकात नहीं हुई है लेकिन वह प्रधानमंत्री के रूप में शानदार काम कर रहे हैं।
- मोदी लोगों को साथ ला रहे हैं, अब भारत के बारे में अब धारणा बदल रही है और आशावाद लौट रहा है।
- पीएम मोदी को एक ‘महान शख्सियत’ बता चुके हैं, साथ ही कह चुके हैं कि वे हिंदुओं के बड़े प्रशंसक हैं।
- रिपब्लिकन हिंदू कोएलिशन द्वारा आयोजित कार्यक्रम में कहा था मैं पीएम मोदी के साथ काम करने की दिशा में सोच रहा हूं। 
- मोदी देश की इकॉनमी और ब्यूरोक्रेसी में सुधार की दिशा में बेहद ऊर्जावान ढंग से काम कर रहे हैं।
- वे एक महान व्यक्ति हैं, मैं उनकी तारीफ करता हूं, मोदी ने जो कदम उठाए, वैसे ही यूएस में उठाने की जरूरत है।
- ट्रंप ने कहा था कि भारत और चीन की एक जैसी शुरुआत हुई, इंडिया अच्छी तरक्की कर रहा है।
- हाल ही में ट्रंप ने एक चुनावी सभा में भारतीयों का मजाक उड़ाते हुए उनकी अंग्रेजी की नकल उतारी थी।
- लेकिन तुरंत ही सफाई देते हुए भारत को एक महान देश बताते हुए कहा था कि वह भारतीय नेताओं से नाराज नहीं है।
- उन्होंने उरी में हुए आतंकी हमले की सख्त शब्दों में निंदा कर यह भी संकेत देने की कोशिश की है।
- उनका प्रशासन सीमा पार आतंकवाद के मसले पर पाकिस्तान से सख्ती से बातचीत करेगा।
- ट्रंप के आने के बाद अमेरिका पाकिस्तान को मिल रही आर्थिक मदद में कटौती कर सकता है।

भारत को बनाएंगे अपना 'बेस्ट फ्रेंड'...
रिपब्लिकन हिंदू कोएलिशन की ओर से इंडो-अमेरिकी जनता के लिए आयोजित कार्यक्रम में भीड़ को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा, भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और अमेरिका का स्वभाविक साझीदार भी। ट्रंप प्रशासन में हम और बेहतर दोस्त बनने जा रहे हैं। देखा जाए तो मैं बेहतर शब्द को हटाना चाहूंगा। हम बेस्ट फ्रेंड बनने वाले हैं।

हिन्दुओं और हिन्दुस्तान का 'बड़ा फैन'...
ट्रंप ने कहा, 'मैं हिंदुओं और भारत का बहुत बड़ा फैन हूं। अगर चुना गया तो भारतीयों और हिंदू समुदाय को वाइट हाउस में सच्चा दोस्त मिलेगा।' भारतीय समुदाय के लोगों के कठोर परिश्रम और उद्यम की तारीफ करते हुए ट्रंप ने कहा, 'हिंदुओं और इंडो अमेरिकी लोगों की कई पीढ़ियों ने देश को मजबूती दी है।'

आतंकवाद पर भारत का साथ...
ट्रंप ने कहा, 'मेरा भारत में बहुत ज्यादा विश्वास है। यह अविश्वसनीय लोगों वाला एक अविश्वसनीय देश है।'मैं इस बात की तारीफ करता हूं कि हमारा शानदार दोस्त भारत कट्टरपंथी इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ अमेरिका के साथ है।' ट्रंप ने कहा कि भारत ने आतंकवाद का जख्म पाया है। उन्होंने मुंबई हमलों का जिक्र करते हुए कहा कि मुंबई एक ऐसी जगह है, जिसे वे प्यार करते हैं और समझते हैं।