डोनाल्ड ट्रंप ने बात नहीं मानने पर किम जोंग को दी बर्बाद कर देने की धमकी

नई दिल्ली (19 मई): अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने परमाणु समझौते को लेकर उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन को कड़ा संदेश देते हुए चेतावनी दी है कि अगर किम कोरियाई प्रायद्वीप को परमाणु मुक्त करने पर सहमत नहीं होते हैं तो उन्हें बर्बाद कर दिया जाएगा। ट्रंप और किम के बीच 12 जून को सिंगापुर में शिखर वार्ता प्रस्तावित है।

उत्तर कोरिया ने हाल में धमकी दी थी कि अगर अमेरिका परमाणु समझौते के लिए एकतरफा दबाव बनाएगा तो वह वार्ता को रद कर देगा। ट्रंप ने हालांकि इस धमकी को महत्व नहीं दिया। अमेरिकी राष्ट्रपति ने गुरुवार को किम के सामने दो विकल्प रखे। पहला, वह परमाणु निरस्त्रीकरण का समझौता कर लें और उत्तर कोरिया की सत्ता में बने रहें। दूसरा, ऐसा नहीं करने पर लीबिया के तानाशाह मुअम्मर गद्दाफी जैसे हश्र के लिए तैयार रहें। साल 2011 में नाटो के सहयोग से विद्रोहियों ने गद्दाफी को सत्ता से बेदखल कर दिया था और बाद में उनकी हत्या कर दी गई थी।

ट्रंप ने यह भी कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ वार्ता के दौरान ‘लीबिया मॉडल’ का इस्तेमाल नहीं करेगा। इससे पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बॉल्टन ने कहा था कि प्योंगयांग के साथ वार्ता का आधार ‘2003-04 का लीबिया मॉडल’ होगा। राष्ट्रपति ने कहा, ‘जब हम उत्तर कोरिया के बारे में सोचते हैं, तो यह लीबिया मॉडल नहीं है। लीबिया में हमने उस देश को तबाह कर दिया था..... वहां गद्दाफी को सुरक्षित रखने का कोई समझौता नहीं किया गया था।’