ट्रंप ने घूस को दी मंजूरी!

नई दिल्ली ( 19 जनवरी ): अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उर्जा कंपनियों के लिए बने भ्रष्टाचार विरोधी कानून को वापस लेने के लिए नए बिल पर हस्ताक्षतर किए हैं। ट्रंप ने अमेरिकी तेल कंपनियों को बहुत बड़ा गिफ्ट दिया है। ट्रंप ने उस नियम को समाप्त कर दिया है जो खनन और ड्रिलिंग अधिकारों को सुरक्षित करने के लिए अमरिकी तेल कंपनियों को दूसरे देश की सरकारों को दिए गए पैसों के बारे में जानकारी देने के लिए मजबूर करता था।

बराक ओबामा ने आर्कटिक एवं अटलांटिक में भविष्य में तेल एवं गैस खनन के पट्टों पर अनिश्चितकाल के लिए रोक लगा दी थी। ओबामा ने राष्ट्रपति रहते हुए तेल और गैस कंपनियों में पारदर्शिता बढा़ने के लिए नियम बनाए थे। जिसमें कंपनियों द्वारा विदेश सरकारों को किए भुगतान का खुलासा करना आवश्यक था।

यह कानून भ्रष्टाचार से लड़ने में करने के उद्देश्य से था। लेकिन अमेरिकी तेल कंपनियों लाॅबी के लिए यह उपहार है।

ट्रंप ने पत्रकारों से कहा कि यह बहुत बड़ी डील है। उर्जा क्षेत्र में नौकरियां वापस आ रही हैं।