ग्रीन कार्ड के लिए अमेरिका ने रखी ये नई शर्त, भारतीयों को भी झटका

नई दिल्ली ( 26 अगस्त ): अमेरिका का स्थायी वीजा हासिल करने वालों लोगों की मुश्किल बढ़ गई है। यूएस इमिग्रेशन अथॉरिटी जल्द ही उन लोगों का इंटरव्‍यू लेगा जिन्‍होंने ग्रीन कार्ड के लिए अप्‍लाई किया है। स्‍थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह बदलाव पहले से बैक‍लॉग्‍ड वीजा सिस्‍टम और वीजा हासिल करने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं। यूएस सिटीजनशिप एंड इमिग्रेशन सर्विसेज (USCIS) के अनुसार हर वो शख्‍स इसके लिए अप्‍लाई कर सकता है जो अमेरिका में हाई पेइंग जॉब करता हो। अमेरिका में हाई पेइंग जॉब करता हो। इसके अलावा स्‍थानीय निवासी भी हो। 

अमेरिका नागरिकता और आव्रजन सेवा (USCIS) ने शुक्रवार को इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि रोजगार आधारित वीजा धारक यदि स्थायी नागरिकता के लिए आवेदन करेंगे तो उन्हें इंटरव्यू देना होगा। गौरतलब है कि भारत, मैक्सिको, चीन, और फिलिपीन जैसे देशों के लोग सबसे अधिक ग्रीन कार्ड हासिल करते हैं।

ऐसे वीजा होल्डर्स जो शरणार्थियों के पारिवारिक सदस्य हैं उन्हें भी प्रविज़नल स्टेटस के लिए अप्लाई करते के लिए इंटरव्यू की प्रक्रिया से गुजरना होगा। इसके बाद ही ग्रीन कार्ड प्राप्त होता है। नई नीति 1 अक्टूबर से लागू होगी। 

डिपार्टमेंट ऑफ होमलैंड सिक्यॉरिटी की ओर से जारी आकंड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2015 में करीब 168,000 प्रवासियों ने इन श्रेणियों में स्थानी नागरिकता हासिल की थी। इसमें से अधिकतर (करीब 122,000) ने रोजगार आधारित वीजा से स्थायी नागरिकता का रुख किया था। इंटरव्यू की अनिवार्यता राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस प्लान का हिस्सा है जिसके तहत वह अमेरिका में आने वाले प्रवासियों और पर्यटकों के लिए अधिकत पुनरीक्षण चाहते हैं।