डोकलाम में पीछे हटने को तैयार चीन !

नई दिल्ली (10 जुलाई): डोकलाम के मुद्दे पर चीन लगातार भारत को युद्ध की धमकी दे रहा है। चीनी मीडिया और वहां के अधिकारी भारत को अंजाम भुगतने की लगातार चेतावनी दे रहा है। लेकिन चालबाज चीन के इन गिदड़ भभकियों का भारत पर कोई असर नहीं दिख रहा है। भारत पहले दिन से ही एक रूख पर कायम है। भारत का कहना है कि चीन पहले विवादित क्षेत्र को खाली करे फिर भारतीय सेना पीछे हटेगी। भारत के इस दृढ़ता के बाद अब चीन को समझ में नहीं आ रहा है कि वो क्या करे। क्योंकि उसे भी पता है अब वह भारत करना उसके लिए आसान नहीं होगा। लिहाजा चीन के रुख में अब थोड़ी नरमी दिख रही है।

डोकलाम पर चीन के सैन्य मौजूदगी बढ़ाने और 100 मीटर पीछे हटने की विरोधाभासी रिपोर्ट एक साथ सामने आई हैं। पहली रिपोर्ट में कहा गया कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने डोकलाम पर 80 टेंट लगा दिए हैं।

वहीं सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक ड्रैगन विवादित जगह से चीनी सेना डोकलाम में 100 मीटर पीछे हटने के लिए तैयार है लेकिन भारत का कहना है कि चीन विवादित जगह से कम से कम 250 मीटर पीछे हटे। जिसके बाद ही भारतीय सेना पीछे जाएगी। वहीं चीन का कहना है कि वह 100 मीटर पीछे हटने को तैयार है लिहाजा भारत को अपनी पूर्व पोजिशन पर जाना चाहिए।

इससे साफ है कि दोनों देशों संघर्ष की बजाय विवादित क्षेत्र से पीछे हटकर मामले को सुलझाने की रणनीति पर काम कर रही है। इससे पहले चीन ने आधिकारिक रूप से डोकलाम में पीछे हटने से इनकार कर दिया था।